अमिताभ बच्चन के कोरोना ट्वीट पर हंगामा! पीएम मोदी ने किया रिट्विट, लेकिन स्वास्थ्य मंत्रालय ने करार दिया गलत, जानें पूरा विवाद

अमिताभ बच्चन के कोरोना ट्वीट पर हंगामा! पीएम मोदी ने किया रिट्विट, लेकिन स्वास्थ्य मंत्रालय ने करार दिया गलत, जानें पूरा विवाद

मीडियावाला.इन।

नई दिल्ली: कोरोना वायरस को लेकर एक ट्वीट और वीडियो के कारण बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन विवादों में घिर गए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इसे रिट्विट किए जाने के बाद यह वायरल हो गया था. विवाद उस वक्त गहरा गया जब स्वास्थ्य मंत्रालय ने बच्चन के ट्वीट में किए गए दावे को सिरे से नकार दिया. स्वास्थ्य मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी लव अग्रवाल ने नियमित तौर पर ली जाने वाली प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमिताभ के दावे को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि कोरोना वायरस मक्खी नहीं केवल इंसानों के जरिये ही फैलता है.

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा अमिताभ के ट्वीट को नकार दिए जाने के बाद अब कुछ लोग उनके खिलाफ गलत जानकारी प्रसारित करने के लिए कार्रवाई तक की मांग कर रहे हैं. द लांसेट का हवाला ट्विटर पर बेहद सक्रिय रहने वाले अमिताभ बच्चन ने द लांसेट के एक अध्ययन का हवाला देते हुए लिखा था कि कोरोना वायरस मानव मल में कई हफ्तों तक जीवित रह सकता है. यही वजह है कि यह वायरस मक्खियों के जरिए भी फैल सकता है. ऐसे में इसके खिलाफ जंग जीतना बेहद अहम है.

अमिताभ ने यह भी लिखा कि इस समय जब देश कोरोना वायरस से जूझ रहा है, सभी नागरिकों को इस लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है. मरीज जब ठीक हो जाए, तब भी उसके मल में कोरोना वायरस जिंदा रहता है. सावधानी बरतने को कहा था उन्होंने आगे लिखा, ऐसे व्यक्ति के मल पर बैठी मक्खियां अगर दुर्भाग्य से फल, सब्जियों, खाने या हमारे द्वारा छू जाने वाली सतह पर बैठ जाएं तो यह वायरस और फैल सकता है. इसलिए आपको ये तीन काम करने हैं- 1. अपने शौचालय का ही उपयोग करें, खुले में शौच के लिए हरगिज न जाएं. 2. सामुदायिक दूरी बनाए रखें, केवल आपात स्थिति में ही घर से बाहर निकलें. 3. दिन में कई बार 20 सेकंड तक अपने हाथों को साबुन से धोएं और अपने आंख, नाक, मुंह को न छुएं.

0 comments      

Add Comment