कंगना रनौत के घर के पास हुई फायरिंग, एक्ट्रेस का बयान-मुझे डराने की कोशिश

कंगना रनौत के घर के पास हुई फायरिंग, एक्ट्रेस का बयान-मुझे डराने की कोशिश

मीडियावाला.इन।

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद अभिनेत्री कंगना रनौत इन दिनों सुर्खियों में छाई हुई हैं. कंगना लगातार सोशल मीडिया के माध्यम से लगातार बॉलीवुड में फैले परिवारवाद, भाई-भतीजावाद को लेकर बॉलीवुड के कई दिग्गज डायरेक्टर, एक्टर पर निशाना साध रही हैं. कंगना इन दिनों अपने मनाली वाले घर में ही हैं. वहीं शुक्रवार की देर रात उनके कंगना के मनाली वाले घर के बाहर फायरिंग की खबर है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, फायरिंग के तुरंत बाद कुल्लू जिला पुलिस तुरंत उनके आवास पर पहुंची और अभिनेत्री के घर के बाहर उनकी सुरक्षा के लिए पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है.

इस मामले में अभिनेत्री कंगना ने कहा,"मुझे 11.30 बजे पटाखा जैसी आवाज सुनाई दी. सबसे पहले मैंने सोचा कि यह एक पटाखा है तभी दूसरी गोली की आवाज आई. जिससे मैं थोड़ा घबरा गई क्योंकि वह एक बंदूक की गोली की तरह लग रहा था."

कंगना ने आगे कहा,"मैने सिक्योरिटी गार्ड को बुलाया और उससे पूछा, क्या हुआ? उन्होंने कहा, यह कुछ बच्चे या कोई और हो सकता हैं, हम चारों ओर घूमेंगे और देखेंगे कि क्या यह पटाखे थे या कुछ अन्य शोर था. शायद इस व्यक्ति ने कभी गोली की आवाज नहीं सुनी होगी, लेकिन मैने सुनी है. उसने सोचा कि यह शायद कुछ शरारत के साथ कुछ करना है. इसलिए वो चारों ओर चले गए, लेकिन वहां कोई नहीं था. अब हम पांच लोग थे जो सभी लोग यहां मेरे साथ थे . जिन्हें महसूस किया कि यह एक गोली की आवाज थी और यह एक शोर का पटाखा नहीं है."

कंगना ने बताया कि उनके घर के आस-पास सेब के बाग हैं और जब उन्होंने पुलिस को इस घटना के बारे में बताया तो पुलिस ने कहा कि कोई चमगादड़ को मारने की कोशिश कर रहा था. हालांकि, कंगना का कहना है कि इसके बाद उन्होंने आप पास के तमाम लोगों को बुलाया और उनसे पूछा था कि क्या उनमें से किसी ने 11.30 बजे कोई गोलियां चलाईं, तो सभी लोगों ने मना कर दिया. कंगना ने आगे कहा कि वह बिल्कुल स्पष्ट है कि यह गोली की ही आवाज थी और यह उनके कमरे के ठीक सामने था.

खबर के अनुसार, एक्ट्रेस ने कहा,"मुझे लगता है कि मेरे स्थान के पास आने के लिए कुछ स्थानीय लोगों को काम पर रखा गया होगा, आप जानते हैं, यहां सात-आठ हजार रुपये किसी को देना मुश्किल नहीं है और उन्हें कुछ इस तरह से असाइन करना है. ऐसा करने के लिए जिस दिन मैंने मुख्यमंत्री के बेटे को बुलाया था उस दिन एक बयान देने के लिए. मुझे नहीं लगता कि यह एक संयोग था. लोग मुझे बता रहे हैं कि अब वे मुंबई में आपके जीवन को दुखी कर देंगे." खबर के अनुसार, पुलिस इस मामले में अभी जांच कर रही है.

News Source- Catch News

RB

0 comments      

Add Comment