Friday, December 13, 2019
गैस लीक हो रही थी, मोबाइल चार्जर का स्विच ऑन करते ही धमाका, दंपती की झुलसकर मौत

गैस लीक हो रही थी, मोबाइल चार्जर का स्विच ऑन करते ही धमाका, दंपती की झुलसकर मौत

मीडियावाला.इन।

भोपाल। रातीबड़ इलाके में एक शिक्षण संस्थान के कैंपस में रहने वाले दंपती की आग से झुलसकर दर्दनाक मौत हो गई। पुलिस जांच में पता चला है कि सिलेंडर से गैस लीक हो रही थी। रात में पति-पत्नी मोबाइल फोन पर फिल्म देख रहे थे। इस दौरान पत्नी ने जैसे ही मोबाइल चार्जर का स्विच ऑन किया, वैसे ही जोरदार धमाका हुआ और दंपती आग की चपेट में आ गए थे।

पुलिस के मुताबिक प्रीतम पाल (25),पत्नी ऊषा पाल (23) के साथ आरडी मेमोरियल इंस्टीट्यूट कैंपस में बने स्टाफ क्वार्टर में रहते थे। प्रीतम संस्थान में चपरासी था, जबकि ऊषा कंप्यूटर ऑपरेटर के पद पर काम करती थी। दोनों लगभग सात साल से संस्थान में काम कर रहे थे।

8 मार्च की रात में पति-पत्नी बिस्तर पर लेटे हुए मोबाइल फोन पर कोई फिल्म देख रहे थे। इस दौरान मोबाइल का चार्जर पलंग के पास रखे बिजली के एक्सटेशन स्विच में लगा था। बैटरी डाउन होती देख ऊषा ने जैसे ही चार्जर का स्विच ऑन किया, वैसे ही जोरदार धमाके के साथ उनका कमरा आग की लपटों से घिर गया। 

आग की लपटों से घिरे तो बाहर भागे

पुलिस के मुताबिक शुरुआती जांच में सामने आया कि ऊषा किचन में रखे सिलेंडर का रेग्युलेटर में लगा नॉब बंद करना भूल गई थी। उससे गैस का रिसाव हो रहा था लेकिन इस बात का उन्होंने ध्यान नहीं रखा। संभवत: चार्जर का स्विच ऑन होते ही निकली स्पार्किंग के कारण आग भड़क उठी। कैंपस में सभी घरों के बाथरूम बाहर बने हैं।

हादसा होते ही पूरे कैंपस की बिजली भी गुल हो गई थी। आग की लपटों से घिरे पाल दंपती चीखते हुए घर के बाहर बाथरूम की तरफ भागे। धमाके की आवाज से कैंपस में सभी लोग जागकर बाहर निकले। उन्होंने पाल दंपती की आग बुझाई लेकिन दोनों बुरी तरह झुलस चुके थे। उन्हें तत्काल उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया। इलाज के दौरान गुरुवार को ऊषा की मौत हो गई, जबकि प्रीतम ने शुक्रवार सुबह दम तोड़ दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।/naidunia.jagran.com

0 comments      

Add Comment