Ram Mandir: करोड़ों घरों में पहुंचेगी राम मंदिर की तस्वीर, फंड इकट्ठा करने के लिए आज से शुरू हुआ अभियान

Ram Mandir: करोड़ों घरों में पहुंचेगी राम मंदिर की तस्वीर, फंड इकट्ठा करने के लिए आज से शुरू हुआ अभियान

मीडियावाला.इन।

Fund Collection Drive for Ram Mandir: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पिछले साल अगस्त में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर की आधारशिला रखी थी। इसके बाद से मंदिर निर्माण का काम तेजी से चल रहा है। इस मंदिर के निर्माण में अरबों रुपये खर्च होने का अनुमान है, जिस वजह से अब श्रीराम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र लोगों से दान लेने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर एक अभियान चलाएगा। जिसमें भक्त अपनी श्रद्धा के अनुसार दान दे सकते हैं। इसके लिए विशेष कूपन भी छपवाए गए हैं।

दरअसल ट्रस्ट पहले ही ये साफ कर चुका है कि स्वैच्छिक योगदान की मदद से ही इस राम मंदिर का निर्माण होगा। इसके लिए अब 10, 100 और 1000 रुपये के कूपन छपवाए गए हैं, जिनका उपयोग धन इकट्ठा करने के लिए किया जाएगा। इसके लिए ट्रस्ट ने बकायदा मकर संक्रांति यानी आज से अभियान शुरू कर दिया है। अभियान के तहत डोर-टू-डोर ट्रस्ट की ओर से नियुक्त वॉलंटियर्स जाएंगे और चंदा इकट्ठा करेंगे। इसके बाद 27 फरवरी को माघ पूर्णिमा पर ये अभियान खत्म होगा।

विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) प्रवक्ता विनोद बंसल के मुताबिक देशभर के चार लाख गांवों में 10 करोड़ लोगों से धन इकट्ठा करने का लक्ष्य रखा गया है। चंदा लेने के बाद वॉलंटियर्स प्रत्येक घर में भगवान राम के पोस्टर और कैलेंडर वितरित करेंगे। बंसल के मुताबिक इस अभियान के जरिए नए राम मंदिर मॉडल की तस्वीर भी करोड़ों घरों तक पहुंचेगी। साथ ही ये दान पूरी तरह से स्वैछिक है, जो भी भक्त जितना चाहे दान देकर कूपन ले सकता है।

कितना आएगा खर्च?

वैसे अगर पूरे राम मंदिर परिसर के निर्माण की बात करें, तो उस पर 1100 करोड़ रुपये का खर्च आने का अनुमान है। वहीं मुख्य राम मंदिर की लागत 300 करोड़ से 400 करोड़ रुपये तक आंकी गई है। ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष स्वामी राम गोविंद देव महाराज ने कहा कि इंजीनियर मंदिर की नींव का प्लान तैयार कर रहे हैं। मुख्य मंदिर का कुल क्षेत्रफल करीब 2.7 एकड़ में है। उम्मीद जताई जा रही है कि 2024 तक रामलला के गर्भगृह का काम पूरा हो जाएगा।

source: oneindia.com

RB

0 comments      

Add Comment