MLA रामबाई और पति गोविन्द सिंह को सुप्रीम कोर्ट का झटका,जमानत याचिका खारिज, हटा सेशन जज द्वारा लगाए आरोपों की जांच करने के HC को दिए निर्देश

MLA रामबाई और पति गोविन्द सिंह को सुप्रीम कोर्ट का झटका,जमानत याचिका खारिज, हटा सेशन जज द्वारा लगाए आरोपों की जांच करने के HC को दिए निर्देश

मीडियावाला.इन।

नई दिल्ली: उच्चतम न्यायालय ने गोविंद सिंह की जमानत याचिका खारिज करने के साथ ही हाईकोर्ट को निर्देश दिया है कि वह हटा सेशन जज द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच कर पन्द्रह दिनों में इसकी रिपोर्ट दें.

बसपा विधायक रामबाई और उनके पति गोविंद सिंह को उच्चतम न्यायालय ने तगड़ा झटका दिया है.बता दें कि देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड में उच्च न्यायालय ने गोविंद सिंह को जमानत देने का फैसला सुनाया था,जिसे अब सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है. 

आरोपों की जांच कर 2 हफ्ते में इसकी रिपोर्ट दें 
सुप्रीम कोर्ट ने गोविंद सिंह की जमानत याचिका खारिज करने के साथ ही हाईकोर्ट को निर्देश दिया है कि वह हटा सेशन जज द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच कर 2 हफ्ते में इसकी रिपोर्ट दें. बता दें कि बसपा विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह दमोह में हुए बहुचर्चित देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड में आरोपी हैं. सोमेश चौरसिया द्वारा दाखिल की गई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने यह आदेश दिया है.

यह भी पढ़ें: मध्यप्रदेश में शासकीय कार्यालयों में कार्य दिवस अब सप्ताह में 5 दिन

अदालत ने कहा कि ताकतवर लोगों के लिए अलग कानून नहीं बनेगा 
सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में राज्य सरकार और पुलिस से भी नाराजगी जाहिर की है.कोर्ट ने कहा है कि पुलिस ने राजनीतिक प्रभाव में आकर इस मामले में काम किया है.जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली सर्वोच्च न्यायालय की पीठ ने अपने फैसले में कहा कि आखिर किस आधार पर हाईकोर्ट ने गोविंद सिंह को जमानत दी? जबकि निचली अदालत ने इस पर रोक लगा दी थी.अदालत ने कहा कि ताकतवर लोगों के लिए अलग कानून नहीं बनेगा.

 यह भी पढ़ें: भाजपा-नेताओं, जज, पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ताओं के टेलीफोन टेप करवाती है, टेलीफोन टैपिंग पर बोले MP के इकलौते काँग्रेस सांसद नकुल नाथ

हत्याकांड में फरार चल रहे थे गोविन्द सिंह 
बता दें कि देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड में आरोपी गोविंद सिंह फरार चल रहे थे और इसी साल 28 मार्च को उन्हें गिरफ्तार किया गया. उल्लेखनीय है कि इसे लेकर भी सुप्रीम कोर्ट ने एमपी पुलिस को 5 अप्रैल तक की डेडलाइन दी थी.उच्च न्यायालय द्वारा गोविंद सिंह को जमानत दिए जाने के फैसले के विरुद्ध देवेंद्र चौरसिया के बेटे सोमेश चौरसिया ने याचिका दाखिल की थी. जिस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने आरोपी गोविंद सिंह की जमानत खारिज करने का आदेश दिया. RB

0 comments      

Add Comment