तिहाड़ जेल प्रशासन ने निर्भया के दोषियों से पूछा गया आखिरी बार परिजनों से कब मिलोगे

तिहाड़ जेल प्रशासन ने निर्भया के दोषियों से पूछा गया आखिरी बार परिजनों से कब मिलोगे

मीडियावाला.इन।

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले के चारों दोषियों के खिलाफ डेथ वॉरंट जारी हो गया है। इन्हें 3 मार्च की सुबह 6 बजे फांसी दी जानी है। नया डेथ वॉरंट जारी होने के बाद से जेल प्रशासन एक बार फांसी से पहले होने वाली सारी प्रक्रियाओं को पूरा करने जुट गया है। जेल प्रशासन अब चारों दोषियों से आखिरी बार परिवार से मुलाकात करने के बारे में पूछ रहा है।

इस मामले में तिहाड़ जेल के अधिकारी ने कहा, चारों दोषियों से अंतिम बार परिवार से मिलने के बारे में पूछा गया है। मुकेश और पवन 1 फरवरी वाले डेथ वारंट से पहले ही अपने परिवार से मिल चुके हैं। अब अक्षय और विनय से पूछा गया है कि वह कब अपने परिवार से मिलना चाहते हैं। इसके अलावा जेल प्रशासन ने यूपी के जेल विभाग को जल्लाद को तिहाड़ बुलाने के लिए पत्र लिखा है। इसमें कहा गया है कि फांसी की तारीख से दो दिन पहले उसे तिहाड़ भेजा जाए।

दोषियों से परिजनों की मुलाकात एक ही दिन होगी या फिर अलग-अलग, इस पर अधिकारियों ने कुछ नहीं कहा है। उनका कहना है कि परिजन जिस दिन मिलना चाहेंगे, उसी दिन उनकी मुलाकात कराई जाएगी। जेल अधिकारियों ने इससे पहले कहा था कि फांसी की तारीख जैसे-जैसे नजदीक आ रही है, वैसे ही दोषियों का व्यवहार हिंसक होता जा रहा है। दोषी मुकेश और विनय कुछ दिनों से जेल कर्मियों के साथ हिंसक व्यवहार कर रहे हैं।

जेल कर्मियों के साथ बदतमीजी

मुकेश और विनय ने रुटीन चेकअप के लिए आए जेल कर्मियों के साथ बदतमीजी की है। तिहाड़ जेल प्रशासन के अनुसार, दोषी हर छोटी बात पर गुस्सा कर रहे हैं। जिसके चलते इन्हें जेल में एंगर मैनेजमेंट (गुस्से पर नियंत्रण) का पाठ पढ़ाया जा रहा है। जेल प्रशासन लगातार दोषियों के व्यवहार पर निगरानी रख रहा है। सूत्रों का कहना है कि जेल के कर्मचारी जब भी दोषी विनय को खाना देने जाते हैं, तो वह उनके साथ गलत व्यवहार करता है। उसे कुछ दिन पहले जेल के अधिकारी जेल का नियम समझाने आए थे, तब भी उसने उनके साथ गलत व्यवहार किया था।

निर्भया की मां ने क्या कहा?

वहीं निर्भया की मां आशा देवी ने दोषी विनय शर्मा के वकील पर कोर्ट को गुमराह करने का आरोप लगाया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, निर्भया की मां ने कहा, 'दोषी विनय के वकील के पास अब कुछ नहीं है... वह न्याय में देरी करने के लिए अदालत को गुमराह कर रहे हैं। विनय को नहीं बल्कि उनके वकील को आराम की जरूरत है। विनय पूरी तरह ठीक है... वह मानसिक रूप से स्थिर है।'

जावेद अख्तर ने वारिस पठान को लगाई फटकार, कहा- 'तुम्हें 15 करोड़ मुसलमानों का ठेका किसने दिया'

 

ANI@ANI

Tihar Jail Official: Have written to all four Nirbhaya case convicts in connection with their last meeting with families. Mukesh and Pawan were told that they had already met their families before February 1 death warrant. Akshay& Vinay have now been asked when they want to meet

210

Twitter Ads info and privacy

43 people are talking about this

 

source: oneindia.com

Dailyhunt

0 comments      

Add Comment