Killer Arrested : अपहरण कर हत्या करने वाला फरार गिरफ्तार!

अब तक इस मामले में पुलिस ने 6 को गिरफ्तार किया!

335

धार से छोटू शास्त्री की रिपोर्ट

Dhar : शहर के पीजी कॉलेज मैदान से बुजुर्ग के अपहरण और हत्या के मामले में फरार चल रहे एक आरोपी को नौगांव पुलिस ने अमझेरा के ग्राम मछलई से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी हत्या के बाद से गुजरात भाग गया था और कई दिनों से गुजरात में फरारी काट रहा था! इस बीच पुलिस को सूचना मिली कि राहुल पिता बाला शुक्रवार को अपने ग्राम मछलई आया है। पुलिस को सूचना मिलते ही टीमें अमझेरा पहुंची और घेराबंदी कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

पीजी कॉलेज ग्राउंड से ब्रह्मा कुंडी निवासी देवीसिंह पिता शोभाराम का अपहरण हो गया था। परिजनों की सूचना पर नौगांव थाने पर गुमशुदगी दर्ज की गई, इसी बीच 15 नवंबर को देवीसिंह का शव क्षत-विक्षिप्त अवस्था में अमझेरा के जंगल में मिला। पुलिस ने मामले में देवीसिंह के जवाई जितेंद्र और परिजन को गिरफ्तार किया था। देवीसिंह की बेटी ने प्रेम-प्रसंग होने के चलते दो साल पहले जितेंद्र से शादी कर ली थी!

शादी के झगड़े के रुपए आरोपी जितेंद्र ने ससुर को दिए थे, लेकिन कुछ दिनों में ही दोनों में विवाद होने लगा जिसके बाद जितेंद्र की पत्नी जितेन्द्र को छोड़कर धार में आकर रहने लगी थी, जितेन्‍द्र अपनी पत्नी को वापस अपने ग्राम ले जाना चाहता था, जिसके लिए ससुर देवीसिंह महिला को लौटाने के एवज में जितेंद्र से रुपयों की मांग कर रहा था। जितेन्द्र देवीसिंह को रुपए नहीं देना चाहता था। इसके चलते उसने अपने साथियों के साथ देवीसिंह का अपहरण कर लिया। मारपीट के दौरान देवीसिंह की मौत हो गई, जिसके शव को जितेन्‍द्र और साथी अमझेरा के जंगल में फेंक आए थे।

नौगांव पुलिस ने मामले में जितेंद्र, रमिया, शारदा बाई, मिथुन व अपहरण में शामिल श्रीराम को गिरफ्तार कर लिया था। राहुल पिता बाला लंबे समय से फरार चल रहा था जिसे पुलिस ने आज गिरफ्तार किया है।

नौगांव थाना प्रभारी भागचंद्र तंवर ने बताया कि अपहरण और हत्या के मामले में अब 5 लोगो को गिरफ्तार किया चुका था, जबकि आरोपी राहुल पिता बाला गुजरात में फरारी काट रहा था। उसे अमझेरा के मछलई गांव से गिरफ्तार किया गया। पुलिस आरोपी को लेकर थाने में लाई थी, जहां उसे कोर्ट में पेश कर जेल भेजा गया है।