Mayor of Chandigarh : कुलदीप कभी भी मेयर का पद ग्रहण करेंगे, SC के फैसले की कॉपी मिली!

कुलदीप कुमार को मेयर बनाने संबंधी सुप्रीम कोर्ट के आदेश की कॉपी सोमवार को नगर निगम पहुंची! 

563

Mayor of Chandigarh : कुलदीप कभी भी मेयर का पद ग्रहण करेंगे, SC के फैसले की कॉपी मिली!

Chandigarh: चंडीगढ़ मेयर का पद अब ‘आम आदमी पार्टी’ के कुलदीप कुमार को मिलने में कोई शंका नहीं। वे कभी भी पद ग्रहण कर सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश की कॉपी के आने के बाद अब ‘आप’ को डीसी की तरफ के नए नतीजे जारी करने का इंतजार है। कुलदीप कुमार को 20 और मनोज सोनकर के 16 वोट मिले। अब कुलदीप को विजेता घोषित करने संबंधी पत्र जारी होगा। लेकिन, सीनियर डिप्टी और डिप्टी मेयर चुनाव दोबारा होंगे। प्रशासन को सुप्रीम कोर्ट के फैसले की कॉपी मिल गई है। दोनों ग्रुपों की तरफ से उम्मीदवारों के नाम में कोई बदलाव नहीं किया गया।

भाजपा को हराने के लिए मेयर चुनाव में पहली बार ‘आप’ और कांग्रेस ने इंडिया गठबंधन के तले साथ आए थे। मेयर पद ‘आप’ के खाते में गया था और सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर के पद पर कांग्रेस ने उम्मीदवार उतारे थे। अब मंगलवार को मेयर आम आदमी पार्टी के पार्षद कुलदीप बन गए। लेकिन, वर्तमान में सीनियर डिप्टी मेयर कुलजीत संधू और डिप्टी मेयर राजिंदर शर्मा पद पर बने हैं। दोनों भाजपा के हैं और उन्होंने इस्तीफा नहीं दिया।

अब आगे सवाल है कि कांग्रेस का सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर कैसे बनेगा। कांग्रेस के नेताओं का कहना है कि अब सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर भी गठबंधन का ही बनेगा। मामले में 26 फरवरी को पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में सुनवाई है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उन्हें उम्मीद है कि हाईकोर्ट उनके हक में फैसला सुनाएगा और सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर उनका बनेगा।

 

नतीजों में संशोधन का इंतजार

इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी कुलदीप कुमार को मेयर बनाने संबंधी सुप्रीम कोर्ट के आदेश की कॉपी सोमवार को नगर निगम पहुंच गई। अब 30 जनवरी को हुए चुनाव के नतीजों में संशोधन किया जाएगा। इसके बाद ही कुलदीप कुमार पद ग्रहण करेंगे। माना जा रहा है कि केजरीवाल समेत अन्य बड़े नेता सोमवार को चंडीगढ़ पहुंच सकते हैं। ऐसे में कुलदीप उसी दिन पद ग्रहण करेंगे। कांग्रेस ने भी अपने कई वरिष्ठ नेताओं से समय मांगा है।

बताया जा रहा है कि अरविंद केजरीवाल का सोमवार को पंजाब में एक कार्यक्रम है। ऐसे में वह पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के साथ चंडीगढ़ पहुंचकर कुलदीप कुमार को पद ग्रहण करा सकते हैं। कांग्रेस से भी कोई वरिष्ठ नेता आ सकता है। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि उन्होंने राहुल गांधी समेत अन्य नेताओं से समय मांगा है, ताकि इंडिया गठबंधन की इस बड़ी जीत को बड़ा बनाया जा सके।

‘आप’ के प्रदेश सह-प्रभारी डॉक्टर सनी अहलूवालिया ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश की कॉपी के आने के बाद अब उन्हें डीसी की तरफ से नए नतीजे जारी करने का इंतजार है। इसमें कुलदीप कुमार को 20 और मनोज सोनक

र के 16 वोट मिलेंगे। इसके बाद कुलदीप को विजेता घोषित करने संबंधी पत्र जारी होगा, जिसके बाद कुलदीप किसी भी समय पद ग्रहण कर सकते हैं। अहलूवालिया ने कहा कि संशोधित नतीजे जारी होने के बाद पार्टी पद ग्रहण समारोह के कार्यक्रम की घोषणा करेगी।

प्रदीप छाबड़ा से मिले कुलदीप 

मेयर घोषित होने के बाद कुलदीप कुमार सोमवार को पंजाब लार्ज इंडस्ट्री डेवलपमेंट बोर्ड के चेयरमैन और ‘आप’ के वरिष्ठ नेता प्रदीप छाबड़ा से मिलने पहुंचे। प्रदीप छाबड़ा ने कुलदीप कुमार को मेयर बनने की बधाई दी और मुंह मीठा कराया। दोनों में काफी देर तक बातचीत हुई। उनके साथ कई कार्यकर्ता भी पहुंचे थे। कुलदीप कुमार को प्रदीप छाबड़ा के करीबी माना जाता हैं।