भू अर्जन प्रकरणों में शासन के साथ करोड़ों की धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, पटवारी निलंबित, तत्कालीन तहसीलदार- एसडीएम के खिलाफ विभागीय कार्रवाई

भू अर्जन प्रकरणों में शासन के साथ करोड़ों की धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, पटवारी निलंबित, तत्कालीन तहसीलदार- एसडीएम के खिलाफ विभागीय कार्रवाई

मीडियावाला.इन।

बड़वानी से सचिन राठौर की रिपोर्ट

कलेक्टर की कार्यवाही, भू अर्जन प्रकरणों में शासन के साथ धोखाधड़ी कर करोड़ो हड़पने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर पटवारी को किया निलंबित, तत्कालीन तहसीलदार सहित एसडीएम पर भी विभागीय कार्यवाही की कही बात, कलेक्टर ने कहा की कुछ मामले और इस तरह प्रकाश में आये है जिनमे अधिकारियों से मिलकर गिरोह के रूप में भू अर्जन का काम किया जा रहा हैं ऐसे लोगों पर हम कठोर कार्रवाई करेंगे


बड़वानी-कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा ने बड़वानी तहसील के हल्का नंबर 4 के तत्कालीन पटवारी रेवाराम गंगवाल को भू अभिलेख रिकॉर्ड अद्यतन नहीं करने, अवार्ड की राशि 143 9593 रुपए से बढ़कर, 2534 0394 रुपए हो जाने से शासन को 23900801 रुपए की क्षति होने का भरसक प्रयास करने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है । कलेक्टर के अनुसार पूर्व में एक मामला सामने आया था जिसमे तात्कालिक एसडीएम रीडर की बहन सहित परिचितों को भू अर्जन प्रकरण में लाभ दिलवाते हुवे शासन को करोड़ से अधिक राशि की क्षति पंहुचाई गई जिसमें सम्बन्धितों के खिलाफ एफआईआर के निर्देश देते हुवे जांच के लिए निर्देशित किया गया था। जिसके बाद फिर एक नया मामला सामने आया है हालांकि कलेक्टर में साफ कर दिया के इस मामले में तात्कालिक तहसीलदार ओर एसडीएम की भी भूमिका है जिनके खिलाफ भी विभागीय कार्यवाही की जाना है। इसके साथ ही कलेक्टर ने कहा कि अभी दो-तीन मामले और हमारी संज्ञान में आए हैं जिनकी जांच चल रही है और यह भी संज्ञान में आया कि यहां पर भू अर्जन का काम एक गिरोह कर रहा है जिसमें शासकीय अधिकारी भी मिले हुए हैं और यह शासन को नुकसान पहुंचा रहे हैं। सभी पर हम कठोर कार्रवाई करेंगे।

0 comments      

Add Comment