Message for Voting: 400 मीटर लम्बे तिरंगे के साथ अद्भुत, अनुपम व अविस्मरणीय मार्च पास्ट

264

Message for Voting: 400 मीटर लम्बे तिरंगे के साथ अद्भुत, अनुपम व अविस्मरणीय मार्च पास्ट

“चुनावी राहगीरी” के माध्यम से मतदान का संदेश, कलेक्टर – SP ने रस्सा-कस्सी में आजमाए हाथ!

ग्वालियर: एक ओर शास्त्रीय नृत्य-संगीत से उठती स्वर लहरियाँ तो दूसरी ओर जोशीला जुम्बा डांस। एक तरफ रोमांचकारी मलखम्ब व लाठी प्रदर्शन तो दूसरी तरफ सुकूनदायी योगासन व ध्यान। इसी तरह एक ओर कलात्मक हॉकी व बास्केटबॉल का प्रदर्शन करते युवा तो दूसरी ओर बच्चों की स्कैटिंग व दिव्यांगजन की क्रिकेट। वहीं पारंपरिक खो-खो, सितौलिया व रस्साकस्सी में दमखम आजमाते शहरवासी। साथ ही लांगुरिया गीत व नुक्कड़ नाटक सहित एक से बढ़कर अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रृंखला।

इससे पहले देश की आन-बान-शान के प्रतीक लगभग 400 मीटर लम्बे तिरंगे को थामकर युवा, बच्चे व बुजुर्गों ने कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती रुचिका चौहान की अगुआई में सीमा सुरक्षा बल के बैंड से झर रही देशभक्तिपूर्ण मधुर धुन के बीच आकर्षक फ्लैग मार्च किया। इससे थीम रोड़ कटोराताल पर अनुपम, अद्भुत, अविस्मरणीय व नयनाभिराम दृश्य साकार हो उठा। इन सभी प्रस्तुतियों से एक ही संदेश निकल रहा था कि लोकतंत्र की मजबूती के लिए आगामी 7 मई को सभी अपने मताधिकार का उपयोग अवश्य करें।

मौका था शनिवार की प्रात:कालीन बेला में थीम रोड़ कटोराताल पर स्वीप (सुव्यवस्थित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचक सहभागिता) के तहत आयोजित हुई “चुनावी राहगीरी” का । इस आयोजन में सांस्कृतिक, बौद्धिक, रचनात्मक व कलात्मक कार्यक्रम एवं पारंपरिक व रोमांचकारी खेलों की प्रस्तुतियों ने समा बांध दिया।

जाहिर है थीम रोड़ चुनावी रंग से सराबोर हो गई और शहरवासियों तक वोट डालने का संदेश पहुँचाया। कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक श्री धर्मवीर सिंह, अपर कलेक्टर श्रीमती अंजू अरुण कुमार, सीईओ जिला पंचायत श्री विवेक कुमार, एडीएम श्री टी एन सिंह, नगर निगम के अपर आयुक्त विजय राज व श्री मुनीष सिकरवार एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री संजीव जैन सहित बड़ी संख्या में युवा, बुजुर्ग एवं महाविद्यालयीन व स्कूली विद्यार्थी शामिल हुए।

“चुनावी राहगीरी”, “चुनाव का रंग मतदाताओं के संग” कार्यक्रम का आगाज कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती रुचिका चौहान ने कार्यक्रम स्थल पर लगाए गए विशाल बैनर पर अपने हस्ताक्षर एवं मतदान की अपील कर किया। इसके बाद फ्लैग मार्च निकला। एमएलबी कॉलेज के सामने से शुरू हुआ फ्लैग प्रदर्शन अचलेश्वर चौराहा से यू-टर्न लेकर कटोराताल होते हुए वापस मुख्य आयोजन स्थल पर पहुँचा।

“मोको करनो है मतदान कि पोलिंग ले चल लांगुरिया” लोकगीत की धुन पर शासकीय पद्माराजे कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं ने मतदान पर केन्द्रित संगीतमयी नृत्य नाटिका प्रस्तुत कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। इसी तरह छाया मंदिर के कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से मतदान का महत्व रेखांकित किया।
कार्यक्रम में शामिल हुए सभी प्रतिभागियों को जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती रुचिका चौहान ने भारतीय लोकतंत्र की मजबूती के लिये मतदान करने की शपथ भी दिलाई।

मनोहारी चित्रकला व रंगोली से मतदान का संदेश

कार्यक्रम में स्थानीय ललित कला महाविद्यालय के विद्यार्थियों और शहर के अन्य युवाओं ने मनोहारी पेंटिंग (चित्रकला) की प्रदर्शनी लगाई गई। साथ ही मौके पर भी मतदाताओं को प्रेरित करने के लिए एक से बढ़कर एक पेंटिंग उकेरीं। इसी तरह आंगनबाड़ियों से जुड़ी महिलाओं द्वारा प्रेरणादायी रंगोली बनाई गईं।

हर प्रस्तुति के प्रतिभागयों को प्रोत्साहित करने पहुँचीं कलेक्टर

“चुनावी राहगीरी” कार्यक्रम में आयोजित हुईं सभी प्रस्तुतियों के प्रतिभागियों को प्रोत्साहित करने के लिये कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान व एसपी श्री धर्मवीर सिंह पहुँचे। साथ ही सभी के साथ समूह फोटो भी खिंचवाई।

कलेक्टर एवं एसपी ने रस्सा-कस्सी में आजमाए हाथ

पारंपरिक खेल रस्साकसी का प्रदर्शन भी चुनावी राहगीरी में हुआ। इसमें कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान एवं पुलिस अधीक्षक श्री धर्मवीर सिंह ने भी भागीदारी की।

लजीज पारंपरिक व्यंजन भी रहे आकर्षण का केन्द्र

कार्यक्रम स्थल पर शहर की विभिन्न सामाजिक संस्थाओं व स्व-सहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं ने पारंपरिक व्यंजन के स्टॉल लगाए थे। साथ ही मौके पर ही एक से बढ़कर एक लजीज व्यंजन बनाकर तैयार किए। कलेक्टर एवं एसपी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों तथा कार्यक्रम के प्रतिभागियों ने इन व्यंजनों का खूब लुफ्त उठाया।

स्वास्थ्य एवं रक्तदान शिविर भी लगे

चुनावी राहगीरी कार्यक्रम में पीड़ित मानवता की सेवा का काम भी हुआ। इस अवसर पर रेडक्रॉस के सहयोग से रक्तदान शिविर लगाया गया। जिसमें लोगों ने बढ़चढ़कर रक्तदान किया। साथ ही इस अवसर पर लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा लगाए गए स्वास्थ्य शिविर में नि:शुल्क जाँचें कर दवाएँ वितरित की गईं।