MLA Wrote a letter to EC : कांग्रेस MLA प्रवीण पाठक ने बुजुर्गो, दिव्यांग और डाक मतपत्र की सुरक्षा की मांग उठाई!

अपने पत्र में 9 बिंदुओं पर सुरक्षा के सुझाव दिए!

419

MLA Wrote a letter to EC : कांग्रेस MLA प्रवीण पाठक ने बुजुर्गो, दिव्यांग और डाक मतपत्र की सुरक्षा की मांग उठाई!

Gwalior : ग्वालियर दक्षिण से कांग्रेस विधायक और इसी सीट से विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार प्रवीण पाठक ने निर्वाचन आयोग के सामने मतपत्रों की सुरक्षा का मुद्दा उठाया है। उन्होंने पत्र लिखकर निर्वाचन आयोग से निष्पक्ष मतगणना की मांग की। उन्होंने बुजुर्गो, दिव्यांग व शासकीय कर्मचारियों के डाक मतपत्र को सुरक्षित रखने और उनकी निगरानी CCTV से करवाने की मांग की।
अपने पत्र में कांग्रेस उम्मीदवार ने मांग की है कि EVM तो स्ट्रांग रूम में सुरक्षित हैं। वहां फोर्स भी लगा है और कैमरे भी लगे हैं। लेकिन बुजुर्ग, दिव्यांग के पोस्टल बैलेट और डाक मतपत्र जिला कोषालय में रखे हैं। वहां पर न तो कैमरे लगे हैं न सुरक्षा के कोई उपाय हैं। ऐसी स्थिति में निष्पक्ष मतगणना के लिए वहां कैमरे लगाए जाएं। उन्होंने अपने पत्र में पार्टियों को वहां निगरानी के लिए अपने खर्चे पर रुकने का इंतजाम करने की भी मांग की। ग्वालियर (दक्षिण) से विधायक प्रवीण पाठक ने अपने पत्र में 9 बिंदुओं पर निष्पक्ष मतगणना के लिए कदम उठाने की मांग की।

WhatsApp Image 2023 11 20 at 7.03.48 PM WhatsApp Image 2023 11 20 at 7.03.55 PM

पत्र में बिंदुवार उठाईं गई मांग
(1) जिला कोषालय में रखे मतपत्रों की सुरक्षा निरंतर CCTV कैमरों के जरिए की जाए।

(2) CCTV कैमरों को बड़ी स्क्रीन से कनेक्ट कर स्क्रीन को कोषालय के बाहर लगाया जाए।

(3) यह स्क्रीन के समीप कांग्रेस प्रत्याशी को टेन्ट लगाकर अपने खर्चे पर निगरानी करने की अनुमति प्रदान की जाए।

(4) कोषालय में रखे मतपत्रों की सुरक्षा के लिए SAF, CRPF के सैनिकों की तैनाती की जाए।

(5) कोषालय में प्रवेश करने वाले हर व्यक्ति का रजिस्टर में नाम, मोबाइल नम्बर व कोषालय आने का प्रयोजन स्पष्ट लिखा जाए। उसकी जानकारी प्रत्येक प्रत्याशी को प्रदान की जाए।

(6) डाक मतपत्रों की गणना के समय मत पत्र के लिफाफे के ऊपर पूर्व में ही अधिकार पत्र में अंकित मतदाता सरल-क लेख कर दिया जाए। जिससे गणना के समय मतपत्र के लिफाफे एवं मतपत्र पर लिखे मतदाता सरल-क में समानता बनी रहे और मतपत्र की निष्पक्षता भी प्रभावित न हो।

(7) CCTV कैमरों को मतगणना दिवस पर विद्युत अवरोध की स्थिति से बचने के लिए 24 घंटे के जनरेटर बैकअप पर लिया जाए। यह खर्च खर्चा उम्मीदवार स्वयं वहन करने को तैयार है।

(8) वोटिंग मशीन की गिनती के समय प्रत्येक मशीन का गणना पत्रक प्रत्याशियों को प्राप्त हो। साथ ही प्रत्येक चक्र के पश्चात गणना पत्रक का डाटा अपलोड करने के पश्चात अपलोड डाटा की प्रति भी प्रत्याशियों को प्रदान की जाए। अपलोड डाटा की प्रति दिए जाने के उपरांत ही नवीन गणना चक्र आरंभ कर वोटिंग मशीन की गिनती शुरू की जाए।

(9) गणना पत्रक से डाटा अपलोड किये जाते समय उम्मीदवार के अधिवक्ता अथवा एक अभिकर्ता को अथवा स्वयं उम्मीदवार को डाटा अपलोड स्थल पर उपस्थित रहने की अनुमति दी जाए।