निवेशकों से फ्राड मामले में MTFE कम्पनी का मालिक योगानन्दा बांबोरे,सीईओ गोविन्द चंद्रावत,एजेंट संदीप टाक पकड़ाए 

मामला कनाडा की अनाधिकृत कम्पनी में निवेशकों के साढ़े 26 लाख रुपए गंवाने का!

1402

निवेशकों से फ्राड मामले में MTFE कम्पनी का मालिक योगानन्दा बांबोरे,सीईओ गोविन्द चंद्रावत,एजेंट संदीप टाक पकड़ाए 

Ratlam : साढ़े 26 लाख रुपए की ठगी करने वाले MTFE (मेटावर्स फॉरेन एक्सचेंज ग्रुप आईएनसी) के सीईओ गोविन्द सिंह चंद्रावत व एजेंट संदीप टाक तथा कम्पनी के मालिक योगानन्दा बांबोरे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैं।इनके विरुद्ध 34 लोगों ने लालच देकर साढ़े 26 लाख रुपए ठगने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।मामले में साढ़े 26 लाख रुपए एंठने का केस शहर के थाना स्टेशन रोड़ सहित जावरा के औद्योगिक क्षेत्र थाना पर दर्ज किया गया था।इन 34 लोगों ने कम्पनी में 15 हजार रुपए से लेकर 4 लाख रुपए लगा रखे थे।इस कंपनी के अफसरों ने शहर की होटलों में बड़े बड़े सेमिनार आयोजित कर लोगों को बड़े मुनाफे का लालच देकर रुपए लगाने का कहा।लोग लालच में आकर कम्पनी में रुपए लगाते रहें।इस मामले में

पुलिस ने बेंगलुरू जाकर तथ्य जुटाए हैं और मामले में आज एसपी राहुल कुमार लोढ़ा ने प्रेस कांफ्रेंस के माध्यम से खुलासा किया।

 

बता दें इन लोगों से ठगाए 50 से अधिक लोग हैं जिन्होंने कंपनी में लाखों रुपए लगा रखे हैं और किसी कारणों से पुलिस के पास नहीं जा रहें हैं।मामले कम्पनी के अफसरों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराने वाले ट्रेवल्स संचालक अशरफ अली निवासी धबाई जी का वास ने शहर के थाना स्टेशन रोड पर दर्ज कराई थी। उसमें बताया था कि एमटीएफई कम्पनी में रूपए लगाकर प्रतिमाह 30 फीसदी तक मुनाफे का लालच देकर मुझसे 22 हजार रुपए तक जमा करवाए और कोई दस्तावेज मांगे तो टालमटोल करने लगे और बताया कि मिलने वाला मुनाफा तुम्हारे बैंक खाते में जमा होता रहेगा।कुछ दिन तो खाते में रुपए जमा हुए और 15 अगस्त के बाद रुपए जमा देखने के एप खोली तो खुलना बंद हो गई।इसका जिक्र गोविन्द सिंह और संदीप टाक से किया तो वह टालमटोल करने लगे।और कुछ दिनों के बाद भाग गए।मामले में थाना स्टेशन रोड पर आरोपियों के विरुद्ध केस दर्ज किया गया तथा

जावरा के थाना औद्योगिक क्षेत्र पर अपराध क्रमांक 529/24.08.23 धारा 406,420,120 (बी) भादवि,21(1), 21(2), 21(3)अनियमित जमा योजना प्रतिबंध अधिनियम 2019 में करते हुए गिरफ्तार आरोपियों के मेमोरेण्डम,काल डिटेल, बैंक खाते जानकारी एवं तकनिकी साक्ष्य के आधार पर अन्य आरोपियों की तलाश की गई।

 

23.सित. 23 को MTFE फर्जी कम्पनी के अपराध में कलीन स्केम प्रायवेट लिमिटेड कम्पनी का मालिक योगानंन्दा कम्पनी की जानकारी लेने हेतु रतलाम आया हुआ था।जिसे मुखबिर की सूचना व फोटो के आधार पर पुलिस ने पकड़ा और पुछताछ की तो उसने अपना नाम योगानन्दा बांबोरे पिता चन्द्रशेखर राव (41)बताया एवं अपनी कम्पनी कलीन स्केम प्रायवेट लिमिटेड के माध्यम से प्रकरण में पूर्व में पकड़ाए आरोपी हुजैफा जमाली निवासी नीमच के साथ मिलकर उक्त MTFE फर्जी कम्पनी के वित्तीय लेनदेन करना कबूला।

आरोपियों का पुलिस द्वारा रिमांड प्राप्त कर पुछताछ की जा रही हैं जिससे फर्जी एमटीएफई कम्पनी के संबंध में ओर भी खुलासे होने की पूर्ण संभावना है।

IMG 20230924 WA0068

*गिरफ्तार आरोपी* 

01 गोविंद सिंह पिता रतन सिंह चंद्रावत उम्र 36 वर्ष निवासी जवाहर नगर रतलाम

02 संदीप पिता फकीरचंद टाक जाति कलार उम्र 40 वर्ष निवासी प्रतापगढ़ राजस्थान

03 योगानन्दा बांबोरे चन्द्रशेखर राव पिता चंन्द्रशेखऱ राव उम्र 41 साल निवासी फ्लेट नम्बर 102 द्वितीय फ्लोर 0258 ललीता गौरी जया नगर, थाना जया नगर,बैंगलुरू, कर्नाटक।

IMG 20230924 WA0069

*सराहनीय भूमिका*

 

थाना प्रभारी औद्योगिक क्षेत्र जावरा,प्रकाश गडरिया,उप निरीक्षक रघुवीर जोशी,उप निरीक्षक राकेश मेहरा,सायबर सेल प्रभारी उप निरीक्षक अमित शर्मा तथा आरक्षक विपुल भावसार की सराहनीय भूमिका रहीं।

IMG 20230924 WA0066

*आमजन से पुलिस की अपील*  

एमटीएफई कम्पनी से जुड़े समस्त आमजन जिनके द्वारा एमटीएफई कम्पनी के एप्लिकेशन को डाउनलोड कर उसमें पैसा लगाया गया उन सभी से अपील की जाती है कि वह अपना एमटीएफई का क्यू आर कोड जिसमें टीआरसी-20 का एड्रेस हैं, हमारे द्वारा जारी फार्मेट में वह अपने नजदिकी थाने पर जमा कराए।इस हेतु थानों पर पृथक से डेस्क स्थापित की गई हैं।

*देखिए : विडियो क्या कह रहें हैं एसपी राहुल कुमार लोढ़ा*