एनआरसी पर आपत्ति का समय 1 महीने बढ़ाया जाए : असम भाजपा

एनआरसी पर आपत्ति का समय 1 महीने बढ़ाया जाए : असम भाजपा

मीडियावाला.इन। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की असम इकाई ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के प्रकाशित मसौदे के लिए आपत्ति दाखिल करने के लिए दिए गए समय में एक महीने का विस्तार देने की अपील की है। भाजपा नीत असम सरकार ने 30 जुलाई को एनआरसी का पूर्ण मसौदा प्रकाशित किया था, जिसमें कुल 3,29,91,384 आवेदकों में से 2,89,83,677 लोगों के नाम शामिल थे। 

मसौदे में से 40,07,707 आवेदकों के नामों को कुछ खामियों के कारण बाहर कर दिया गया।

पार्टी ने कहा, "हमारा विश्वास है कि अंतिम एनआरसी में एक भी विदेशी का नाम शामिल नहीं किया जाना चाहिए।"

भाजपा ने कहा, "साथ ही, एक भी वास्तविक भारतीय नागरिक के नाम को अंतिम एनआरसी से बाहर नहीं रखा जाना चाहिए।" 

भाजपा असम इकाई के उपाध्यक्ष मजोज राम फूकन ने कहा, "40,07,707 का आंकड़ा बहुत बड़ा है और इसलिए हम मानते हैं कि दावों और आपत्तियों को दाखिल करने के लिए और अधिक समय दिया जाना चाहिए, ताकि दस्तावेजों में सभी वास्तविक मामलों को शामिल किया जा सके ।" 

उन्होंने कहा कि इस संबंध में राजनाथ सिंह को एक ज्ञापन भेज दिया गया है।

फूकन ने यह भी कहा कि एनआरसी मसौदे में कुछ घोषित विदेशियों के नाम भी शामिल हैं और गृहमंत्री से उचित कार्रवाई करने की अपील की गई, ताकि अंतिम एनआरसी में उसे ठीक किया जा सके।
 

0 comments      

Add Comment