मुंबई:बारिश में मरने वालों का आकड़ा 31 पहुंचा, 5 दिनों का ऑरेंज अलर्ट जारी

मुंबई:बारिश में मरने वालों का आकड़ा 31 पहुंचा, 5 दिनों का ऑरेंज अलर्ट जारी

मीडियावाला.इन।

मुंबई में आफत की बारिश के चलते हुई कई घटनाओं में अब तक 31 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके साथ ही आर्थिक राजधानी में मूसलाधार बारिश के कारण जलभराव हुआ और यातायात भी प्रभावित रहा। रविवार तक दीवार ढहने से संबंधित दो अलग-अलग दर्दनाक हादसों में यहां 25 लोगों की मौत हुई थी। ये आंकड़ा अब बढ़ गया है।

भूस्खलन की अलग-अलग घटनाओं में 31 लोगों के मारे जाने के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को मुंबई में अधिकारियों से मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि अगले पांच दिनों के लिए मुंबई और तटीय महाराष्ट्र के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है, क्योंकि भूस्खलन की आशंका को देखते हुए बृहन्मुंबई नगर निगम निचले इलाकों से लोगों को स्थानांतरित कर रहा है।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन हादसों पर दुख जताते हुए कहा, 'मुंबई के चैंबूर और विक्रोली में दीवार गिरने से लोगों की मौत से दुखी हूं। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। प्रार्थना करता हूं कि जो लोग घायल हुए हैं वे अतिशीघ्र स्वस्थ हों।' साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से हादसे में मरने वाले परिजनों को दो-दो लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये मुआवजा देने का एलान कर दिया। इसके अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी मुंबई में वर्षा जनित हादसों में लोगों के मारे जाने पर शोक व्यक्त किया। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मारे गए लोगों के परिजन को पांच लाख रुपए की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है।

बता दें कि पश्चिम रेलवे और मध्य रेलवे ने भारी बारिश के चलते मुंबई में उपनगरीय ट्रेन सेवाओं को कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया तथा लंबी दूरी की कई ट्रेनों का या तो रूट डायवर्ट कर दिया गया या उनका अन्य स्टेशनों से परिचालन हो रहा है।

हर साल की तरह इस समय भी मुंबई की सड़कों पर जलसैलाब का नजारा है, तो वहीं मायानगरी की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेन सेवा लगभग ठप हो गई है। मूसलाधार बारिश की वजह से मुंबई के हनुमान नगर से लेकर कांदीवली इलाके में लोगों के घरों तक में पानी घुस गया है। तीन दिन से मुंबई वालों को जलसैलाब की वजह से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है

0 comments      

Add Comment