ममता की रैली में शामिल हुए भाजपा के 'शत्रु', जल्द ही कार्रवाई कर सकती है पार्टी

ममता की रैली में शामिल हुए भाजपा के 'शत्रु', जल्द ही कार्रवाई कर सकती है पार्टी

मीडियावाला.इन। कोलकाता में ममता बनर्जी की मेगा रैली में शामिल हुए शत्रुघ्न सिन्हा के खिलाफ पार्टी कार्रवाई कर सकती है पार्टी ।

नई दिल्ली: कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रमुख ममता बनर्जी द्वारा आयोजित की गई रैली में 22 पार्टियों से अधिक के नेता शामिल हुए हैं। यहीं नहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी भी इस रैली में शामिल हुए और जमकर पीएम मोदी पर निशाना साधा। इन सबके अलावा इस रैली में भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा भी शामिल हुए। शत्रुघ्न सिन्हा  के रैली में शामिल होने पर पार्टी ने कार्रवाई करने के संकेत दिए हैं। भाजपा प्रवक्ता और सांसद राजीव प्रताप रूडी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि पार्टी शत्रुघ्न सिन्हा पर संज्ञान ले चुकी है।

भाजपा ने इस रैली को सिद्धान्तविहीन लोगों को एकजुट करने की कोशिश बताते हुए रूडी ने कहा, 'ये वो लोग हैं जो सिर्फ एक व्यक्ति के खिलाफ अपने स्वार्थों वजह से इकट्ठा हुए हैं। केंद्र की मोदी सरकार को हटाने के लिए इनका जमघट लगा है, लेकिन इन्हें समझ लेना चाहिए कि जनता समझदार है और इनके झांसे में नहीं आने वाली है।' 
शत्रुघ्न सिन्हा के रैली में शामिल होने को लेकर रूडी ने कहा, 'शत्रुघ्न सिन्हा पर पार्टी अपना संज्ञान ले चुकी है। कुछ लोगों की महत्वाकांक्षा बहुत बढ़ गई है। मैं ऐसे लोगों के बारे में कुछ नहीं कह सकता। यह जरूर कहना चाहता हूं कि यह पार्टी और जनता के विश्वास के साथ धोखा देने का काम है।' कोलकाता में ममता की रैली को संबोधित करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, 'इससे ज्यादा जानदार, शानदार और दमदार रैली मैंने कभी नहीं देखा। मेरी जवाबदेही पहले जनता के लिए बनती है, इसलिए जो देश के हित में होता है जो जनता के हित में होता है वही मैं बोलता हूं। मुझसे लोग सवाल करते हैं कि जब आप बीजेपी में हैं तो बीजेपी के खिलाफ क्यों बोलते हैं? क्या आप बागी हैं? तो मैं कहता हूं कि अगर सच कहना बगावत है तो हां मैं बागी हूं।'इस इस रैली में अखिलेश यादव-सपा, सतीश मिश्रा- बीएसपी, चंद्रबाबू नायडू-टीडीपीएमके, स्टालिन-डीएमके,एचडी कुमारस्वामी और एचडी देवगौड़ा-जेडीएस, खड़गे और सिंघवी-कांग्रेस, अरविंद केजरीवाल-आप, फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला-नेशनल कांफ्रेस, तेजस्वी यादव-आरजेडी,शरद पवार-एनसीपी,अजित सिंह और जयंत चौधरी-आरएलडी, हेमंत सोरेन, हार्दिक पटेल,जिग्नेश मेवाणी, लालधुवहावमा-नेता विपक्ष मिजोरम,यशवंत सिन्हा, शरद यादव, शत्रुघ्न सिन्हा,गेगांग अपांग-पूर्व मुख्यंत्री अरूणाचल प्रदेश,अरुण शौरी इसमें शामिल हुए हैं।

0 comments      

Add Comment