रेल मंत्रालय ने लिया यह फैसला- बसों से मजदूरों की वापसी के बाद ही चलेंगीं ट्रेनें

रेल मंत्रालय ने लिया यह फैसला- बसों से मजदूरों की वापसी के बाद ही चलेंगीं ट्रेनें

मीडियावाला.इन।

इंडियन रेलवे के सूत्र ने बताया कि इस बात का इंतजार किया जाएगा कि कितने लोग बसों से अपने अपने घर के लिए रवाना होते हैं, इस तरह से रेलवे पर लोड कम होने के बाद ही स्पेशल ट्रेनों को चलाने की पर विचार किया जा सकता है। बता दें कि केंद्र सरकार ने दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों को बसों से वापस भेजने की मंजूरी दे दी है, दूसरी तरफ कई राज्य सरकारों इसके लिए स्पेशल ट्रेनों की मांग कर रहे हैं। इस बीच कोरोना के मामले में लगातार इजाफा हो रहा है, इसलिए रेलवे की तरफ से मजदूरों के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने के लिए कई योजनाओं पर विचार हो रहा है।

इन विकल्पों पर विचार कर रही रेल मंत्रालय

-ट्रेन ऑपेरशन शुरू होने पर पहले केवल कुछ चुनिंदा ट्रेनें चलाई जाए, वह भी चुनिंदा स्टॉपेज के साथ। - 72 बर्थ वाले स्लीपर कोच में अधिकतम 54 लोगों को सफर करने दिया जाए।
-रेलवे ने स्लीपर क्लास के 5 हज़ार से ज़्यादा डब्बों को आइसोलेशन वार्ड में बदल दिया है। इन डब्बों से स्लीपर-2 के तौर पर स्पेशल क्लास की ट्रेन चलाई जा सकती है।
- जिन इलाकों में कोरोना के ज़्यादा मामले आ रहे हों वहां से न से तो कोई आये न ही कोई ट्रेन जाए।

Dailyhunt

0 comments      

Add Comment