New Opium Policy: नवीन अफीम नीति में सुधार को लेकर सांसदों ने केंद्रीय वित्त मंत्री से मुलाकात की, 1995 के अफ़ीम किसानों को पट्टे दिये जाने की मांग

1327

New Opium Policy: नवीन अफीम नीति में सुधार को लेकर सांसदों ने केंद्रीय वित्त मंत्री से मुलाकात की, 1995 के अफ़ीम किसानों को पट्टे दिये जाने की मांग

मंदसौर से डॉ घनश्याम बटवाल की रिपोर्ट

मंदसौर – सोमवार को नई दिल्ली में मंदसौर सांसद सुधीर गुप्ता और चित्तौड़गढ़ सांसद सी पी जोशी ने अफीम नीति 2024-25 को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण और केंद्रीय वित्त सचिव संजय मल्होत्रा से भेंट की। उन्होंने संसदीय क्षेत्रों के अफीम किसानों के संबध में विभिन्न विषयों में विस्तारपूर्वक चर्चा की।

मंदसौर सांसद श्री गुप्ता ने वित्तमंत्री से चर्चा करते हुए कहा कि जिन किसानों के 1995 के बाद लाइसेंस जारी नहीं हुए हैं और जिन्हे किसी भी अपराध में सम्मिलित नहीं होने के बावजूद भी अफीम के लाइसेंस जारी नहीं किए हैं, ऐसे किसानों को वर्ष 2024-25 की नवीन अफीम नीति में सम्मिलित किया जाए।

क्षेत्र में ऐसे अफीम किसानों की संख्या लगभग 50 हजार है। उन्होंने बताया कि मालवा क्षेत्र का किसान काफी मेहनती है और अपनी मेहनत और पूरी ईमानदारी में विश्वास रखता है। साथ ही उन्होंने 2024-25 की अफीम नीति को समय पूर्व जारी करने की मांग भी रखी और कहा कि संपूर्ण प्रक्रिया ऑनलाइन की जाए व प्रक्रिया पूरी करने में विभाग किसानों को पूर्णत सहयोग करें , क्योंकि समय से अफीम लाइसेंस जारी करने पर किसान को बोवनी समय पर करने का मौका मिलेगा और वह उचित मानक की फसल प्राप्त कर सकेगा।
सांसद गुप्ता ने बताया कि देश के प्रधानमंत्री और मोदी सरकार किसानों की आय को बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है और उसके सकारात्मक परिणाम भी आ रहे हैं। जहॉ पर वर्ष 2014 में अफीम लाईसेंस की संख्या मात्र 18 हजार थी, लेकिन मोदी सरकार के आने के पश्चात अफीम किसानों को खेती में होने वाली समस्याओं को केन्द्र सरकार ने समझा एवं किसानों के हितों को ध्यान में रखकर प्रतिवर्ष पॉलिसी का निर्माण किया गया, जिससे इस वर्ष तक अफीम लाईसेंस की संख्या बढ़कर लगभग 1 लाख से भी अधिक हो गयी हैं

WhatsApp Image 2023 12 19 at 11.13.52

। इसी के साथ ही उन्होने किसानों के कई विषय भी रखे। इस पर वित्तमंत्री व वित्त सचिव द्वारा पूरा आश्वासन दिया गया कि सरकार किसानों के हित में कोई भी निर्णय लेने से पीछे नही हटेगी।

केंद्रीय वित्तमंत्री से नई दिल्ली में भेंट अवसर पर चित्तौड़गढ़ ( राजस्थान ) के सांसद और राजस्थान प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सीपी जोशी भी साथ थे।
मंदसौर, नीमच, जावरा संसदीय क्षेत्र के साथ चितौड़ , प्रतापगढ़ कोटा आदि क्षेत्रों में कोई 90 हजार से अधिक काश्तकारों द्वारा अफ़ीम फसल ली जाती है । परंपरागत अफ़ीम और आधुनिक पद्यति से फसल ली जा रही है ।