IBM बड़े स्तर पर कर्मचारियों को कर रही बाहर, भारत में भी मंडरा रहा छंटनी का खतरा

IBM बड़े स्तर पर कर्मचारियों को कर रही बाहर, भारत में भी मंडरा रहा छंटनी का खतरा

मीडियावाला.इन।

क्नोलॉजी की दुनिया की दिग्गज कंपनी इंटरनेशनल बिजनेस मशीन कार्पोरेशन (IBM) ने बड़े स्तर पर कर्मचारियों की छंटनी की बात स्वीकार की है. नए मुख्य कार्यकारी अधिकारी  अरविंद कृष्णा 47 पदभार संभालने के बाद यह फैसला लिया गया है. यह पहला मौका होगा जब कंपनी काफी बड़ी संख्या में कर्मचारियों को बाहर करेगी.

IBM ने जारी किया बयान

ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, IBM ने एक बयान जारी कर कहा, "IBM हाइली कंपटीटिव मार्केटप्लेस में काम करती है, इसलिए वर्कफोर्स को बढ़ाने के लिए लगातार हाई स्किल वैल्यू को जोड़ने की जरूरत होती है. जबकि हम हमेशा वर्तमान परिवेश पर विचार करते हैं. यह निर्णय अपने बिजनेस को देखते हुए लिया गया है."

सब्सिडी वाले चिकित्सा कवरेज देने की पेशकश

इसके साथ ही कंपनी ने यह भी कहा कि हमारे कुछ कर्मचारियों को ऐसे कठिन समय में कंपनी के इस निर्णय को स्वीकार करने में काफी दिक्कतें होंगी. इसलिए IBM अमेरिकी कर्मचारियों को जून 2021 से सब्सिडी वाले चिकित्सा कवरेज देने की पेशकश करती है. हालांकि कंपनी ने अपने बयान में निकालने वाले कर्मचारियों की संख्या का कोई जिक्र नहीं किया है.

भारत में भी कई लोगों की नौकरी पर खतरा

IBM के इस फैसले के बाद पेंसिल्वेनिया, कैलिफोर्निया, मिसौरी और न्यूयॉर्क में भी कर्मचारी प्रभावित होंगे. साथ ही साथ भारत में कई कर्मचारियों की नौकरी पर खतरा मंडरा रहा है. यह स्पष्ट नहीं है कि आईबीएम की कटौती महामारी के कारण कितनी है, लेकिन पिछले कई सालों से कंपनी के राजस्व में काफी गिरावट देखी गई है.

Dailyhunt

0 comments      

Add Comment