सुप्रीम कोर्ट में आज तय होगा कि अयोध्या मामले में 25 जुलाई से रोजाना सुनवाई होगी या नहीं

सुप्रीम कोर्ट में आज तय होगा कि अयोध्या मामले में 25 जुलाई से रोजाना सुनवाई होगी या नहीं

मीडियावाला.इन।

अयोध्या में राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद जमीनी विवाद में आज सुप्रीम कोर्ट में अहम फैसला लिया जाएगा. शीर्ष कोर्ट आज तय करेगा के अयोध्या मामले में 25 जुलाई से रोजाना सुनवाई होगी या नहीं. अयोध्या मामले में शीर्ष कोर्ट द्वारा बनाई गई मध्यस्थता कमेटी की प्रगति रिपोर्ट आज यानि गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की संविधान पीठ देखेगी.

बता दें कि प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने 11 जुलाई को इस मुद्दे पर रिपोर्ट मांगी थी और कहा था कि अगर अदालत मध्यस्थता कार्यवाही पूरी करने का फैसला करती है तो 25 जुलाई से रोजाना सुनवाई करने का फैसला ले सकती है. हालांकि इस मामले में रजामंदी की कोई बात बनती नजर नहीं आ रही है.

सीजेआई रंजन गोगोई की अगुआई वाली पांच जजों की संविधान पीठ ने सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज जस्टिस कलीफुल्ला की अध्यक्षता में मध्यस्थता कमेटी बनाकर इस मसले को बातचीत के जरिए आपसी सहमति से ही सुलझाने की पहल की थी. इससे पहले कोर्ट ने कमेटी को दो महीने का वक्त दिया था.

उसके बाद ये अवधि अगले 13 हफ्तों यानि 15 अगस्त तक के लिए बढ़ा दी गई. इसी बीच कोर्ट के गर्मी छुट्टी के बाद खुलते ही याचिकाकर्ता गोपाल सिंह विशारद ने कोर्ट से कहा कि समिति के नाम पर विवाद सुलझाने के आसार बेहद कम हैं, क्योंकि इसमें तो सिर्फ समय बर्बाद हो रहा है. इसलिए कोर्ट कमेटी खत्म कर स्वयं सुनवाई कर मामले में सुनवाई करे.

0 comments      

Add Comment