सूर्य उत्तरायण के साथ प्रदेश में छमाछम बारिश, फिजा में घुली ठंडक

सूर्य उत्तरायण के साथ प्रदेश में छमाछम बारिश, फिजा में घुली ठंडक

मीडियावाला.इन।

मध्यप्रदेश में अचानक बदले मौसम के तेवर,पश्चिमी विक्षोभ के चलते आज राजधानी भोपाल सहित मध्यप्रदेश के कई स्थान छमाछम बारिश से भीग गये और मौसम में ठंडक घुल गई। भोपाल में सवेरे कोहरा भी रहा और द्रश्यता 800 मीटर तक रही। उसके बाद, घने काले बादल छा गए और वर्षा की बौछारें शुरू हो गई। करीब घंटा भर बाद बादल हल्के हुए और सूर्य बादलों के पर्दे से झांकने लगा लेकिन दोपहर में फिर बूंदाबांदी हुई। यहां दिनभर सूरज और बादलों के बीच आंख मिचौली चलती रही।

मौसम विज्ञान केन्द्र वरिष्ठ वैज्ञानिक ने बताया

मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के वरिष्ठ वैज्ञानिक पी के साहा ने बताया कि आज भोपाल सहित इंदौर, उज्जैन , दतिया और ग्वालियर में भी कोहरा रहा तथा बाद में बौछारे भी पड़ी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में दिनभर मौसम ऐसा ही रहने का अनुमान है। कल भी हल्की वर्षा हो सकती है।

कल पूर्वी मध्यप्रदेश में भी बारिश होने का अनुमान

प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस बैतूल में रिकार्ड हुआ। भोपाल में भी रात का पारा 14.6 डिग्री पर टिका रहा। यह सामान्य से चार डिग्री ज्यादा है। बादलों की वजह से दिन का पारा कल की अपेक्षा कुछ नीचे गिर सकता है।पिछले 24 घंटों के दौरान उज्जैन संभाग के जिलों में कहीं कहीं हल्की वर्षा हुई है।

अगले चौबीस घंटों में मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल संभाग के जिलों में तथा गुना, अशोकनगर, खंडवा, खरगोन ,धार, इंदौर उज्जैन एवं देवास जिलों में कहीं कहीं गरज चमक के साथ हल्की वर्षा तथा ग्वालियर, चंबल एवं सागर संभागों के जिलों और इंदौर, उज्जैन,रतलाम एवं शाजापुर के जिलों में मध्यम से घना कोहरा भी रह सकता है।

Dailyhunt

0 comments      

Add Comment