No Arrest After Accident : हादसे के बाद अभी तक कोई गिरफ़्तार नहीं, अध्यक्ष फरार सचिव पर कार्रवाई नहीं!

645

No Arrest After Accident : हादसे के बाद अभी तक कोई गिरफ़्तार नहीं, अध्यक्ष फरार सचिव पर कार्रवाई नहीं!

Indore : पटेल नगर में हुए हादसे के बाद पुलिस ने श्री बेलेश्वर महादेव मंदिर समिति के अध्यक्ष और सचिव के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया था। लेकिन, एक सप्ताह बाद भी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई। अध्यक्ष की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीम भेजी थी, लेकिन वो फरार है। जबकि, अस्पताल से डिस्चार्ज सचिव पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

बेलेश्वर महादेव झूलेलाल मंदिर में रामनवमी पर हर साल की तरह हवन-पूजन था। हवन के दौरान बावड़ी का स्लैब धंसने से 36 लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष सेवाराम गलानी और सचिव मुरली सबनानी पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया है। इतना ही नहीं लापरवाही बरतने वाले भवन अधिकारी परसराम अरोलिया और बिल्डिंग इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया गया है।

अभी तक अध्यक्ष या सचिव में से किसी भी गिरफ्तारी नहीं हुई। अध्यक्ष को तो फरार बताया जा रहा है। भारतीय दंड संहिता की धारा 304 के अनुसार जिसके तहत गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया जाता है, उसमें आजीवन कारावास या दस साल तक का कारावास हो सकता है।

हर साल मंदिर में हवन का आयोजन परिसर के बाहर होता था लेकिन जिन लोगों ने परिसर के अंदर हवन करवाने का निर्णय लिया, उसमें सचिव मुरली सबनानी की अहम भूमिका बताई जा रही है। सबनानी घटना के दौरान मंदिर में मौजूद थे और हादसे का शिकार भी हुए। उन्हें इलाज के लिए एप्पल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। यहां उनके पैर का ऑपरेशन किया गया है। पुलिस गिरफ्तारी के लिए उनके डिस्चार्ज होने का इंतजार कर रही थी।

मंगलवार को उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। मगर इसके बाद भी उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार नहीं किया। मंदिर समिति के अध्यक्ष सेवाराम गलानी को लेकर भी पुलिस अधिकारियों का कहना है कि वे फरार हैं। एसीपी दिशेष अग्रवाल ने कहना है कि दोनों (अध्यक्ष-सचिव) आरोपियों की तलाश की जा रही है। एक आरोपी वर्तमान में उपचारत है और दूसरे आरोपी की भी तलाश की जा रही है। मामले में और किस-किस की गलती है, इसकी भी जांच कर रहे हैं। संबंधित के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

मजिस्ट्रियल जांच जारी

घटना को लेकर कलेक्टर इलैया राजा टी ने मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए थे। जांच के बिंदुओं ये हैं कि किन परिस्थितियों में मृत्यु हुई। पूरा घटनाक्रम क्या था। घटनाक्रम में क्या परिस्थितियां थीं और इसके लिए कौन जिम्मेदार हैं। भविष्य में इस प्रकार की घटना नहीं हो, उसके लिए सुझाव सहित अन्य शामिल रहेंगे। जांच 15 दिन में पूरी करनी है। हादसे की मजिस्ट्रीयल जांच शुरू हो चुकी है।

जांच के तहत एडीएम अभय बेड़ेकर ने पटेल नगर के बगीचे में कब्जा करने वाले श्री बेलेश्वर महादेव झूलेलाल मंदिर ट्रस्ट के पदाधिकारियों को नोटिस जारी किए हैं। जिसमें ट्रस्ट के अध्यक्ष सेवाराम गलानी, सचिव मुरली सबनानी, उपाध्यक्ष रामचंद्र छुगानी शामिल हैं। साथ ही बगीचे की भूमि पर अवैध निर्माण की शिकायत करने वाले स्नेह नगर विकास मंडल के पदाधिकारी वीडी मूंदड़ा, सचिव पंकज काबरा आदि को भी सूचना-पत्र भेजे गए हैं। आरोपी की तलाश की जा रही।