No Horn Please : पुलिस को चालकों को बेवजह हॉर्न न बजाने का संदेश!

'अनावश्यक हॉर्न न बजाएं' जन जागरूकता अभियान आरंभ

881

No Horn Please : पुलिस को चालकों को बेवजह हॉर्न न बजाने का संदेश!

‘अनावश्यक हॉर्न न बजाएं’ जन जागरूकता अभियान आरंभ

Indore : अभी तक यह कहा और सुना जाता था कि सड़क पर वाहन का हार्न बजाकर अपनी मौजूदगी के बारे में बताएं! पर अब इंदौर की ट्रैफिक पुलिस ने ‘अनावश्यक हॉर्न न बजाएं’ को लेकर जन जागरूकता अभियान शुरू किया है। वाहन चालकों को संदेश दिया जा रहा कि वे बेवजह हॉर्न बजाकर दूसरे वाहन चालकों को विचलित न करें।

IMG 20220731 WA0069

देखा गया है कि कई वाहन चालक गलत आदत, बेचैनी, बेवजह की जल्दबाजी के चलते अनावश्यक हॉर्न बजाते हैं! इससे अन्य सड़क उपयोगकर्ताओं को मानसिक कष्ट भी होता है। तेज ध्वनि की वजह से चिड़चिड़ापन, हाई ब्लड प्रेशर और कई बार तो दिल की बीमारियों के भी बढ़ने का खतरा रहता है। गाड़ियों की तेज ध्वनि आंशिक बहरेपन का कारण भी बन जाती है। वाहन चालक अनावश्यक हॉर्न न बजाएं और अन्य सड़क उपयोगकर्ताओं को मानसिक कष्ट न हो।

इस मकसद से पुलिस आयुक्त हरिनारायणचारी मिश्र के निर्देश पर यातायात प्रबंधन पुलिस ने ‘अनावश्यक हॉर्न न बजाएं’ को लेकर जन जागरूकता अभियान का शुभारंभ किया है। पुलिस आयुक्त, अतिरिक्त पुलिस आयुक्त मनीष कपूरिया एवं पुलिस उपायुक्त यातायात प्रबंधन महेश चंद जैन, अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त अंजना तिवारी, अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त अनिल कुमार पाटीदार के द्वारा व्हाइट चर्च चौराहा पर ‘अनावश्यक हॉर्न न बजाएं’ से जुड़े प्रेरक संदेशों की तख्तियों के माध्यम से बेवजह हॉर्न का उपयोग न करने के लिए वाहन चालको को प्रेरित किया गया।

पुलिस आयुक्त ने कहा कि कई बार जागरूकता न होने एवं संवेदनशीलता न होने के कारण वाहन चालक बेवजह ध्वनि प्रदूषण करते हैं। इसलिए जागरूकता के माध्यम से वाहन चालकों को अनावश्यक हॉर्न नहीं बजाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है, ताकि ध्वनि प्रदूषण को न्यूनतम स्तर तक ले जाया जा सके एवं लोगों के स्वास्थ्य पर ध्वनि प्रदूषण का विपरीत असर न पड़े।