नये साल के पहले ही दिन सफेद सोना पहली बार हुआ 10 हजारी, किसानों के चेहरे पर रौनक

1098

खरगोन से आशुतोष पुरोहित की रिपोर्ट

नये साल के पहले ही दिन कपास यानी सफेद सोने रिकॉर्ड 10 हजार रूपये क्विंटल बिका, अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में रूई की बड़ी डिमांड और बेहतर क्वालिटी के कपास की मांग के चलते मंडी में सफेद सोना पहली बार हुआ दस हजारी

कपास सफेद सोने के बम्फर भाव मिलने से किसानों के चेहरे पर रौनक

खरगोन: खरगोन में आज नये साल 2022 के पहले ही दिन कपास यानी सफेद सोने का भाव ने पुराने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिये। प्रदेश की सबसे बडी खरगोन कपास मंडी में 10 हजार रूपये क्विंटल कपास की नीलामी हुई। जो अब तक के सबसे बड़ी नीलामी मानी जा रही है।

 

कपास सफेद सोने के बम्फर भाव मिलने से किसानों के चेहरे पर नये साल के पहले दिन रौनक देखी गई। आम तौर पर इस वर्ष 5 हजार से 7 हजार रूपये तक कपास सफेद सोने का भाव रहा है लेकिन अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में रूई की बड़ी  डिमांड और बेहतर क्वालिटी के कपास की मांग के चलते मंडी में सफेद सोना पहली बार दस हजारी हो गया।

किसान जिनिंग के आदित्य पाटीदार ने रिकॉर्ड 10 हजार रूपये की नीलामी में बोली लगाकर कपास खरीदा।

 

कपास के भाव 10 हजार मिलने से उत्साहित टोकलाय के किसान महेश धनाजी का कहना है कि नया वर्ष का पहला ही दिन खुशी लेकर आया। कपास के रिकॉर्ड 10 हजार का भाव मिला। मंडी में 9 हजार से 10 हजार रूपये में कपास के किसानों को आज भाव मिल रहा है। किसान को बहुत फायदा होगा। कपास के भाव पहले 5 हजार से 6 हजार के बीच मिले थे।

 

किसान जिनिंग आदित्य पाटीदार का कहना था कि अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में रूई की बड़ी डिमांड और बेहतर क्वालिटी के कपास की मांग के चलते मंडी में सफेद सोने के किसानों को अच्छे भाव मिल रहे हैं। पहली बार रिकॉर्ड तोड़ 10 हजार का भाव मिला है।

 

इधर कपास मंडी के व्यापारियों का मानना था कि कपास की फसल कम है। पहली बार किसानों को इतने भाव मिल रहे हैं। कपास के और भी आगे भाव बढ़ सकते हैं। किसानों को पीएम नरेन्द्र मोदी की मंशा के अनुरूप कपास के दुगने भाव मिल रहे हैं।

WhatsApp Image 2022 01 01 at 2.41.48 AM

कपास मंडी प्रभारी रमेशचन्द्र भास्करे ने बताया कि मंडी में करीब 500 वाहन और 200 के करीब बैलगाड़ी में कपास आज पहुंचा था। रूई की गठानों की डिमांड के चलते किसानों को अच्छे भाव मिल रहे हैं। आज मंडी में नीलामी के दौरान कपास 10 हजार क्विंटल तक बिक गया। किसान जिनिंग के आदित्य पाटीदार ने सबसे अधिक बोली लगाई थी। पिछले तीन महीनों में लगातार कपास के भाव में उछाल रहा है। आज नये साल के पहले ही दिन कपास का भाव 10 हजार पार कर गया। अच्छी क्वालिटी के कपास के आगे और भी भाव बढ़ने की उम्मीद है।