Online Fraud : ऑनलाइन फ्रॉड के शिकार 6 लोगों को क्राइम ब्रांच ने पैसे वापस दिलाए! 

पिता का मित्र बनकर मदद के बहाने ठगी करने वाले से पैसे वापस दिलवाए!

312

Online Fraud : ऑनलाइन फ्रॉड के शिकार 6 लोगों को क्राइम ब्रांच ने पैसे वापस दिलाए! 

Indore : साइबर ठग कई तरह से लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं। कई बार प्रलोभन देकर, कभी इमोशनल तरीके से लोगों को ठगते हैं। जैसे मैं आपके पिता का मित्र बोल रहा हूं, मुझे कुछ पेमेंट चाहिए, आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट खत्म हो रही है, पार्ट टाइम जॉब दिलाने, शेयर बाजार में निवेश करने जैसे प्रलोभन देकर ठग लोगों को अपना शिकार बनाते हैं। आनलाइन ठगी के शिकार 6 लोगों ने साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बाद क्राइम ब्रांच ने सभी को उनकी राशि वापस दिलाई। 2023 में मिली शिकायतों पर कार्रवाई कर सवा करोड़ से अधिक राशि वापस कराई।

क्राइम ब्रांच द्वारा संचालित साइबर हेल्पलाइन पोर्टल पर सोशल मीडिया एवं ऑनलाइन फ्रॉड संबंधित शिकायतें आती है, इन शिकायतों का त्वरित निराकरण किया जाता है। इसी क्रम में आवेदिका खुशबू निवासी इंदौर को अनजान ठग ने कॉल पर कहा कि पहचाना मुझे, मैं तुम्हारे पिताजी का मित्र बोल रहा हूं, तो आवेदिका ने अपने पिता के परिचित मित्र का नाम बोला, जिसका फायदा उठाकर ठग ने वही मित्र बनकर पेमेंट भेजने को कहा। आवेदिका ने इसके बाद अपने एसबीआई बैंक की लिंक यूपीआई के माध्यम से पेमेंट प्रोसेस कराते हुए 50,000 रुपए ट्रांसफर करा लिए।

 

यह भी मामले आए

आवेदक आशीष को अनजान ठग ने कॉल पर कहा कि पहचाना मुझे ,मेरी आवाज से पहचानो। तुम्हारा मित्र बोल रहा हूं। आवेदक ने अपने परिचित मित्र का नाम बोला, जिसका फायदा उठाकर ठग ने वही मित्र बनकर पेमेंट भेजने को कहा। आवेदक के पेटीएम वॉलेट अकाउंट से पेमेंट प्रोसेस कराते हुए 20,000 रुपए ट्रांसफर कराए।

– आवेदिका अश्विनी को ठग ने यही कहा  और उसके एचडीएफसी बैंक से लिंक गूगल के माध्यम से पेमेंट प्रोसेस करवाते हुए 30,000 रुपए ट्रांसफर कराए।

– आवेदिका कविता से एसबीआई बैंक खाते में गलती से 40 हजार रुपए फोन-पे के माध्यम से ट्रांसफर कराए।

– आवेदिका प्रेरणा को ठग ने फर्जी मैसेज भेजकर कहा कि तुम्हारे पिता के इंश्योरेंस के 18 हजार रुपए मैंने तुम्हारी एसबीआई बैंक खाते में ट्रांसफर किए हैं। उसे चेक करने के नाम से ठग ने अपना शिकार बना लिया।

– आवेदिका सृष्टि को कहा कि पिता के पैसे मैंने तुम्हारे एचडीएफसी बैंक खाते में 45 हजार जमा कराए हैं। सभी आवेदकों के पैसे क्राइम ब्रांच ने वापस कराए।  मैं आपके पिता का मित्र बोल रहा हूं, कहकर राशि ठगी परिचित मित्र का नाम बोला, जिसका फायदा उठाकर ठग ने वही मित्र बनकर पेमेंट भेजने को कहा।

– आवेदिका ने इसके बाद अपने एसबीआई बैंक की लिंक यूपीआई के माध्यम से पेमेंट प्रोसेस कराते हुए 50,000 रुपए ट्रांसफर करा लिए। इस तरह सभी के पैसे क्राइम बांच ने वापस कराए।