No Confidence Motion : अधीर बाबू के प्रति मेरी संवेदना,विपक्ष मुझे क्यों कोसता है?

323

No Confidence Motion : अधीर बाबू के प्रति मेरी संवेदना,विपक्ष मुझे क्यों कोसता है?

पीएम मोदी ने कहा कि

इससे पहले, जुलाई 2018 में मोदी सरकार के खिलाफ कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्ष अविश्वास प्रस्ताव लाया था। अविश्वास प्रस्ताव के समर्थन में सिर्फ 126 वोट पड़े थे.

1999 में वाजपेई साहब के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आया। शरद पवार डिबेट कर रहे थे। इस बार ऐसा क्या हो गया कि विपक्ष के इतने बड़े नेता अधीर जी को बोलने का मौका नहीं मिला। कोई नहीं आज उनको मौका मिला। मैं नहीं जानता कि आखिर आपकी क्या मजबरी है, आपने क्यों अधीर बाबू को किनारे कर दिया। उनको बोलने तक का समय नहीं दिया। कांग्रेस बार-बार उनका अपमान करती है। कभी चुनाव के नाम पर उन्हें अस्थायी रूप से फ्लोर लीडर से हटा देती है। कोलकाता (ममता) से फोन आया होगा। हम अधीर बाबू के प्रति पूरी संवेदना व्यक्त करते हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार अपने नौ वर्षों में दूसरी बार अविश्वास प्रस्ताव का सामना कर रही है, हालांकि संख्याबल को देखते हुए प्रस्ताव का विफल होना संभावित दिखाई देता है।

कल लोकसभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सरकार की तरफ से जवाब दिया। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद अविश्वास प्रस्ताव की जानकारी दे रहे हैंपीएम मोदी ने कहा कि पिछले तीन दिनों से आदरणीय सांसदों ने अपने विचार व्यक्त किए। सभी के विचार विस्तार से पहुंचे भी हैं। मैं भी स्वयं कुछ भाषण सुने हैं।

देश की जनता ने हमारी सरकार के प्रति बार-बार जो विश्वास जताया है। मैं आज देश के कोटि-कोटि नागरिकों का आभार व्यक्त करने के लिए उपस्थित हुआ हूं। भगवान बहुत दयालु हैं और भगवान की मर्जी होती है तो वो किसी न किसी के माध्यम से अपनी इच्छा की पूर्ति करता है।

मैं इसे भगवान का आशीर्वाद मानता हूं कि ईश्वर ने विपक्ष को सुझाया और वो प्रस्ताव लेकर आए। 2018 में भी ये ईश्वर का ही आदेश था जब विपक्ष के मेरे साथी अविश्वास प्रस्ताव लेकरआए। तब भी मैंने कहा था कि ये प्रस्ताव हमारी सरकार का हीं, बल्कि ये उन्हीं का फ्लोर टेस्ट है। क्योंकि जब मतदान हुआ तो विपक्ष के पास जितने वोट थे, उतने भी जमा नहीं कर पाए।

पीएम मोदी ने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि जब चारों तरफ संभावनाएं हैं तो इन लोगों ने अविश्वास प्रस्ताव के जरिए आम लोगों  के भविष्य को तोड़ने की कोशिश की है। आज भारत में रिकॉर्ड विदेशी निवेश आ रहा है। भारत प्रगति कर रहा है। आज भारत की कोई भी अच्छी बात ये सुन नही सकते। यही उनकी अवस्था है। आज गरीब के दिल में अपने सपने पूरे का मौका पैदा हुआ है। आज देश में गरीबी तेजी से घट रही है। नीति आयोग के मुताबिक, पिछले पांच साल में साढ़े 13 करोड़ लोग गरीबी से बाहर आए। आईएमएफ कहता है कि भारत ने अति गरीबी को करीब-करीब खत्म कर दिया है। आज भारत की स्कीम्स की तारीफ की है।

‘Emergency’ में शानदार हैं इंदिरा गांधी बनी कंगना रनौत का अभिनय