सिक्योरिटी गार्ड से लूटी गई 110 साल पुरानी बंदूक की पुलिस ने जब्त, 4 आरोपी हिरासत में

554

भिण्ड से परानिधेश भारद्वाज की रिपोर्ट

भिंड: जिला पुलिस ने एक महीने पहले बीच शहर में हुई बंदूक लूट की वारदात का खुलासा करते हुए पांच आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। आरोपियों के कब्जे से लूटी गई बंदूक, 10 जिंदा कारतूस सहित लूट में प्रयुक्त मोटरसाइकिल, मोबाइल, जैकेट सहित कुल 4 लाख 50 हजार रुपये का सामान जब्त किया गया है।

देखिये वीडियो-

 

दरअसल 23 नवंबर की शाम को शहर के देहात थाना क्षेत्र में स्थित हीरो एजेंसी के सामने ही उसके गार्ड से 3 लाख से अधिक कीमत की एक सौ दस साल पुरानी बंदूक को अज्ञात लुटेरों द्वारा लूट लिया गया।

लुटेरों द्वारा घटना को उस समय अंजाम दिया गया जब सुरक्षा गार्ड की नौकरी करने वाला प्रदीप शर्मा ड्यूटी खत्म कर घर जा रहा था तभी कुछ लुटेरों द्वारा उससे बंदूक लूट ली गई। उसने इसकी शिकायत पुलिस में की। पुलिस द्वारा अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले की पड़ताल शुरू की गई।

मामले की पड़ताल करते हुए पुलिस द्वारा शहर में लगे सीसीटीवी फुटेज को तो खंगाला ही गया, साथ ही घटना स्थल के आसपास के सभी सीसीटीवी कैमरों को खंगाला गया। जिसमें पुलिस को कुछ युवक संदेहास्पद लगे। जो सीसीटीवी फुटेज खंगाले उनमें एक पीली जैकेट पहने हुए युवक बार-बार दिखाई दिया।

जिसके बाद पुलिस ने उसकी पहचान करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया। पुलिस को इसमें कामयाबी भी मिली और पुलिस आरोपी तक पहुंच गई।

पुलिस ने जब उसको हिरासत में लेकर पूछताछ की तो आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया, साथ ही उसका साथ देने वाले आरोपियों को भी पुलिस ने पकड़ लिया।

यही नहीं बंदूक खरीदने वाले और खरीदने बेचने में मध्यस्थता निभाने वाले लोगों पर भी पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह कुशवाह ने बताया कि यह काफी चैलेंजिंग काम था। लेकिन देहात थाना प्रभारी रामबाबू यादव एवं साइबर सेल प्रभारी शिव प्रताप सिंह ने सीएसपी आनंद राय के नेतृत्व में कार्य करते हुए आरोपियों को पकड़ने में सफलता प्राप्त की।

बतौर पुलिस अधीक्षक आरोपियों के ऊपर 3 – 3 हजार रुपए का इनाम भी घोषित किया गया था।

लूट की घटना को अंजाम देने वाले सभी आरोपियों की उम्र महज 20 से 22 साल के बीच बताई गई है, जिनमें से ज्यादातर हायर सेकेंडरी के छात्र हैं।

देखिये वीडियो: क्या कह रहे हैं, शैलेंद्र सिंह चौहान (एसपी भिण्ड)-