Political Meeting: Captain अमरिंदर सिंह की Amit Shah से मुलाकात,करीब 45 मिनट तक हुई बातचीत

857

New Delhi: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के BJP में शामिल होने का रास्ता खुल गया। कल तक वे BJP में शामिल होने के सवालों को टाल रहे थे, पर आज की उनकी गतिविधियों का रुख BJP की तरफ मुड़ गया। आज शाम वे BJP के वरिष्ठ नेता और गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मिले। दोनों के बीच करीब 45 मिनट तक बातचीत हुई। समझा जा रहा है कि उन्हें केंद्र में Agriculture Minister (कृषि मंत्री) बनाया जा सकता है। संभव है कि उन्हें किसान आंदोलन को संभालने की जिम्मेदारी देकर कोई ऐसा फैसला किया जाए, जिसका BJP को Punjab में राजनीतिक फ़ायदा मिले।

कैप्टन अमरिंदर ने आज जो किया, उसने सभी को चौंका दिया। वे बुधवार शाम गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मुलाकात करने उनके आवास पहुंचे। दिल्ली के हलकों में चर्चा गरम है कि कैप्टन को BJP में लाकर कोई बड़ी जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। कैप्टन के BJP में जाने की अटकलें मंगलवार सुबह से ही जोरों पर थीं, पर खुद अमरेंद्र सिंह ने इसे नकारा। लेकिन, इस महीने के शुरु में पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देते समय उन्होंने नया विकल्प तलाशने का संकेत जरूर दिया था। आज की यह बैठक इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि कैप्टन ने इस्तीफ़ा देते समय अपने पत्ते नहीं खोले थे। लेकिन, दावा जरूर किया था कि उन्होंने राजनीति नहीं छोड़ी है और वे अंत तक ये लड़ाई लड़ेंगे। अपने कट्टर विरोधी नवजोत सिंह सिद्धू पर तीखा हमला किया था।

आज शाम अमित शाह से मुलाक़ात को भी कैप्टन ने ‘शिष्टाचार मुलाकात’ कहा। लेकिन, जानकारों को समझ आ रहा है कि राजनीति में ऐसी शिष्टाचार की मुलाकातें तब नहीं होती, जब आपके नाम की अफवाह गर्म हो। कैप्टन की आगे की योजना के बारे में पूछे जाने पर उनकी टीम ने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया। उनके मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने कहा था कि ‘कैप्टन अमरिंदर के दिल्ली दौरे के बारे में बहुत कुछ कहा जा रहा है। जबकि वे निजी दौरे पर हैं। इस दौरान वह कुछ दोस्तों से मिलेंगे और कपूरथला हाउस (राष्ट्रीय राजधानी में पंजाब के मुख्यमंत्री का आवास) खाली करेंगे। अनावश्यक अटकलों की कोई जरूरत नहीं है!

इस महीने की शुरुआत में कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिद्धू सहित अपने विरोधियों के साथ चले लम्बे राजनीतिक विवाद के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। अमरिंदर सिंह ने कहा था कि सिद्धू के साथ लड़ाई में कांग्रेस नेतृत्व ने उन्हें तीन बार अपमानित किया। उन्होंने यह भी कहा था कि उनके राजनीतिक विकल्प खुले हैं और वे अपने दोस्तों से बात करने के बाद ही कोई फैसला करेंगे।

मंगलवार का सियासी हंगामा
कैप्टन Amrinder SIngh सिंह के दिल्ली दौरे के बारे में मंगलवार पूरा दिन हड़कंप मचा रहा। उनके चंडीगढ़ से जहाज में उड़ने से दिल्ली में उतरने तक काफी कुछ कहा और लिखा गया। लेकिन, ऐसा कुछ नहीं हुआ। इस दौरान वे कुछ दोस्तों से मिले और नए मुख्यमंत्री के लिए कपूरथला का घर भी खाली करेंगे। कैप्टन ने कहा कि अनावश्यक अटकलों की जरूरत नहीं। लोगों के जहन में तरह तरह के सवाल उठ रहे होंगे। लेकिन, वे स्पष्ट करना चाहते हैं कि उनके दिल्ली दौरे को राजनीतिक नजरिए से नहीं देखा जाना चाहिए।

सिद्धू पर हमला

पंजाब के CM पद से इस्तीफे के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सिद्धू पर जबरदस्त अंदाज में हमला करते हुए निशाना भी साधा था। सिद्धू को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा तक बताया। कैप्टन ने कहा था कि अगर सिद्धू चुनावी मैदान में उतरेंगे, तो उनके खिलाफ दमदार उम्मीदवार उतारेंगे। यह ऐसा बयान था कि कोई ऐसा व्यक्ति जो खुद को कांग्रेस का सिपाही बताता हो, वो किसी कांग्रेसी उम्मीदवार को क्यों हराएगा।