दमोह की जीत एक इशारा है, अब देश में BJP का 'खेला होबे':कमलनाथ

दमोह की जीत एक इशारा है, अब देश में BJP का 'खेला होबे':कमलनाथ

मीडियावाला.इन।

कमलनाथ ने कहा कि बंगाल चुनाव में अमित शाह बोलते थे 200 पार करेंगे, लेकिन यह तो 80 पार नहीं कर पाए. अब तो 'खेला होबे' शुरू होने वाला है.

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नजीतों, दमोह उपचुनाव और मध्यप्रदेश में कोरोना की स्थिति को लेकर बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है। 

दमोह उपचुनाव में मिली जीत को उन्होंने जनता की जीत बताया. उन्होंने कहा कि मैं 'दमोह की जनता के लिए धन्यवाद देता हूं, क्योंकि दमोह की जनता ने यह संदेश देकर इतिहास रचा है कि घाटे और सौदेबाजी की राजनीति नहीं चेलगी. यह चुनाव तो एक शुरूआत है..यह एक इशारा है. अब तो इन लोगों को तमाचा मारेगी जनता. क्योंकि प्रदेश में किसान परेशान हैं..व्यापारी परेशान हैं.'

हार के बाद राहुल लोधी द्वारा पूर्व मंत्री जयंत मलैया पर भितरघात के आरोप लगाए हैं. इस पर कमलनाथ ने कहा कि कोई भितरघात नहीं किया गया..जनता ने 15 साल का हिसाब लिया है. जहां तक भितरघात की बात है तो अगर जयंत मलैया 17 हजार वोट से कांग्रेस के उम्मीदवार को जिता सकता हैं तो उन्हें मुख्यमंत्री बना देना चाहिए.

*टीएमसी की जीत पर कमलनाथ खुश*

बंगाल में टीएमसी की जीत पर कमलनाथ ने खुशी जाहिर की है. उन्होंने कहा कि मैं बहुत खुश हूं..ममता बनर्जी से मेरे बहुत पुराने संबंध हैं..चुनाव के बाद मैने उन्हें बधाई दी और मध्यप्रदेश में आममंत्रित किया है कि यहां आकर वे बीजेपी की पोल खोलें, कि किस तरह उन्हें सीबीआई, ईडी के नोटिस भेजे गए...

*बीजेपी का खेला होबे शुरू-कमलनाथ*

कमलनाथ ने कहा कि अमित शाह बोलते थे 200 पार करेंगे, लेकिन यह तो 80 पार नहीं कर पाए. अब तो 'खेला होबे' शुरू होने वाला है. सही बात तो ये है कि कुल 822 सीटें पांच राज्यों में थीं, जिसमें से बीजेपी को कुल 140 सीटें मिलेंगी, लगभग 17 फीसदी सीटें मिलीं, मतलब खेला होबे शुरू हो गया है.

*ईवीएम से चुनाव कराए जाने पर कमलनाथ ने उठाए सवाल*

बंगाल में कांग्रेस के कमजोर प्रदर्शन पर कमलनाथ ने कहा कि बंगाल में हमारा मुकाबला बीजेपी से था..हमें ममता दीदी की चिंता नहीं थी. हमारा मिशन है बीजेपी मुक्त हो..हमने केरल में वामपंथियों के साथ गठबंधन किया. केरल में बीजेपी की एक सीट नहीं आई. बंगाल में बीजेपी विरोधी दल जीती. पुडुचेरी में यह गठबंधन से जीते..असम में यह कैसे जीते यह आने वाला वक्त बताएगा. मैने तो हमेशा कहा है कि आज जरूरत है कि हम ईवीएम पर पूरी जांच करें. क्योंकि यह बहुत बड़ा खेल है.

*कमलनाथ ने बताई बीजेपी की रणनीति*

कमलनाथ ने बीजेपी को टारगेट करते हुए कहा कि हमें यह बात याद रखनी है कि इनकी रणनीति क्या है..इनकी रणनीति है कि लोकसभा चुनाव तक पोल न खुले. केरल में अगर इनकी 2 सीटें आ जाती हैं तो लोग कहते ईवीएम चेक करो.. इसलिए बीजेपी चाहती है कि लोकसभा तक पोल न खुले इसलिए केरल में खेल मत करो. आज पूरे अफ्रीका और पूरे यूरोप में ईवीएम नहीं है..क्या वहां के लोग कुछ नहीं जानते.

0 comments      

Add Comment