Rahul Gandhi Disagrees : सर्जिकल स्ट्राइक वाले दिग्विजय के बयान से राहुल असहमत!

राहुल गांधी ने कहा 'बयान से नहीं हूं सहमत, सेना पर हमें पूरा भरोसा!'

476

Rahul Gandhi Disagrees : सर्जिकल स्ट्राइक वाले दिग्विजय के बयान से राहुल असहमत!

New Delhi : कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाने के बाद कांग्रेस बुरी तरह फंस गई। अब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी उनके बयान से किनारा कर लिया। राहुल ने कहा कि मैं दिग्विजय के बयान से सहमत नहीं हूं। सेना के शौर्य पर कोई सवाल नहीं है। सेना कुछ करे तो सबूत देने की जरूरत नहीं है।

बीजेपी ने इस मुद्दे पर दिग्विजय पर हमला बोला है। पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि दिग्विजय सिंह का बयान गैर जिम्मेदाराना और शर्मनाक है। सेना की शहादत पर सबूत नहीं मांगा जाता। पुलवामा हमले को लेकर दिग्विजय सिंह की टिप्पणी पर भी रविशंकर प्रसाद ने यह सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि क्या सेना की स्ट्रेटेजिक सुरक्षा पर चर्चा होगी, जिससे पाकिस्तान को इसकी भनक लग जाए।

मीडिया पर भड़के जयराम रमेश
दिग्विजय सिंह के बयान के बाद कांग्रेस की बौखलाहट आज साफ साफ दिखी जब पार्टी के मीडिया प्रभारी जयराम रमेश ने मीडिया वालों से धक्का मुक्की की। उन्होंने मीडिया का कैमरा जबरन हटा दिया और दिग्विजय सिंह को मीडिया से बात नहीं करने दिया। दिग्विजय सिंह अपने कल के बयान पर सफाई देना चाहते थे, लेकिन जयराम रमेश ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया।

ऐसे शुरू हुई यह बहस
भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने पुलवामा और सर्जिकल स्ट्राइक का मामला उठाया था। उन्होंने सरकार से पूछा ‘पुलवामा में हमारे 40 जवान शहीद हुए थे। सरकार इसका खुलासा नहीं कर पाई। आखिर ये आरडीएक्स आया कहां से? सरकार अभी तक इस बात का जवाब नहीं दे पाई कि देवेंद्र सिंह डिप्टी एसपी कहां हैं? उसे क्यो छोड़ दिया गया? उस पर देशद्रोह का केस क्यों नहीं लगा? पीएम और पाक पीएम के क्या संबध हैं? कैसे संबध हैं। दोनों एक दूसरे की तरीफ कर रहे हैं।’

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान एक मंच से केंद्र सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने आज तक संसद के सामने 2016 के सर्जिकल स्ट्राइक या 2019 के पुलवामा आतंकी हमले पर रिपोर्ट पेश नहीं की है। सरकार लगातार झूठ बोलती रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने अब तक सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर कोई सबूत नहीं दिखाया है।