Rescue of Tiger:  टाइगर को रेस्क्यू करने के लिए वन विभाग प्रयोग करेगा थर्मल लेजर, IR कैमरा

115

Rescue of Tiger: टाइगर को रेस्क्यू करने के लिए वन विभाग प्रयोग करेगा थर्मल लेजर, IR कैमरा

भोपाल। खूंखार टाइगरों को रेस्क्यू करने के लिए वन विभाग परंपरागत तरीकों के अलावा अब नई टेक्नालॉजी का प्रयोग करने जा रहा है। रायसेन के जंगल में खूंखार रॉयल टाइगर को रेस्क्यू करने के लिए वन विभाग परंपरागत तरीकों के अलावा नई तकनीक थर्मल लेजर ड्रोन आई आर कैमरे का प्रयोग करने के बाद ही रॉयल टाइगर वन विभाग के शिंकजे में आया। रॉयल टाइगर को पकड़ने में वन विभाग को एक महीना भारी मशक्कत करना पड़ा। थर्मल लेजर और आईआर कैमरे की उपयोगिता को देखते हुए वाइल्ड लाइफ ने तय किया है कि अब भविष्य में टाइगरों को रेस्क्यू करने के लिए इस नई तकनीक का विभाग पूरा प्रयोग करना पड़ेगा। जिससे ग्रामीणों को समय रहते हुए दहशत से बचाया जा सकें । प्रदेश में टाइगरों की आबादी बढ़ने से विभाग को इस तकनीक की हमेशा जरूरत पड़ेगी। वन विभाग इस तकनीक का प्रयोग टाइगरों के अलावा तेंदुओं को रेस्क्यू करने में भी अपनाएगा।  इन दिनों राजधानी के आस- पास टाइगरो का मूवमेंट काफी ज्यादा बढ़ गया है।

*परंपरागत तरीके से नहीं मिली सफलता-*

रॉयल टाइगर को रेस्क्यू करने के लिए वन विभाग की विशेष टीम 20 दिन तक परंपरागत तरीके का प्रयोग करती रही है। विभाग की विशेष टीम  हाथियों और ट्रैप कमरे की मदद से रॉयल टाइगर को रेस्क्यू करती रही। 20 दिन के अथक प्रयास के बाद जब विभाग को सफलता नई मिली तब जाकर विभाग ने नई टेक्नोलॉजी को प्रयोग में लाई।

*जीएसएम बेस कैमरे लगाए गए-*

रॉयल टाइगर को पकड़ने के लिए जंगल में जीएसएम बेस कैमरे लगाए। इस कैमरे की सबसे खास बात यह है कि इस कैमरे में सीम लगी होती है। कैमरे के आस- पास टाइगर के आने से कैमरे में टाइगर की लोकेशन मिल जाती। जीएसएम कैमरा आॅटोमैटिक तरीके से संबंधित टीम के पास टाइगर का लोकेशन सहित ब्लैक एंड व्हाइट फोटो मेल कर देता था। जिससे विभाग की टीम संभावित लोकेशन पर आसानी से पहुंच जाती थी। आईआर कैमरे के सबसे खास बात यह है कि इसके सामने टाइगर के आने से कैमरा फ्लैश नहीं करता और टाइगर की तस्वीर कैमरे में आ जाती हैं।

*सोलर पॉवर सीसीटीवी लगाया गया-*

वन विभाग की टीम रॉयल टाइगर को पकड़ने के लिए आधुनिक तकनीक में सोलर पॉवर सीसीटीवी भी जंगल में लगाया गया। जंगल में जहां- जहां पानी का स्थान था वहां इस तरह के कैमरे लगाए गए। विभाग से जुड़े लोगों ने बताया कि टाइगर को पकड़ने में परंपरागत तरीके से ज्यादा कारगर आधुनिक तकनीक की पद्धतियां ज्यादा कारगर रही।

6