Sawariya Seth Mandir: सांवलिया सेठ मंदिर के खजाने से निकला नोटों का पहाड़, चढ़ावे में आए इतने सोने-चांदी

449

Sawariya Seth Mandir: सांवलिया सेठ मंदिर के खजाने से निकला नोटों का अंबार, चढ़ावे में आए इतने सोने-चांदी

Sawariya Seth Temple: राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले में प्रसिद्ध सांवलिया सेठ के मंदिर के खजाने से भारी मात्रा में कैश के साथ सोना और चांदी के जेवर निकले हैं.

सांवरिया जी मंदिर राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले में स्थित है।[1] यह श्री सांवलिया सेठ के नाम से भी जाना जाता है।[2] किंवदंती यह है कि वर्ष 1840 में, भोलाराम गुर्जर नाम के एक ग्वाला ने बागुंड गाँव के छापर में तीन दिव्य मूर्तियों को भूमिगत दफनाने का सपना देखा था; साइट को खोदने पर, भगवान कृष्ण की तीन सुंदर मूर्तियों की खोज की गई, जैसा कि सपने में दिखाया गया था। मूर्तियों में से एक को मंडफिया ले जाया गया, एक को भादसोड़ा और तीसरा बागुंड गाँव के छापर में, उसी स्थान पर जहां यह पाया गया था। तीनों स्थान मंदिर बन गए। ये तीनों मंदिर 5 किमी की दूरी के भीतर एक-दूसरे के करीब स्थित हैं। सांवलिया जी के तीन मंदिर प्रसिद्ध हुए और तब से बड़ी संख्या में भक्त उनके दर्शन करने आते हैं। इन तीन मंदिरों में मंडफिया मंदिर को सांवलिया जी धाम (सांवलिया का निवास) के रूप में मान्यता प्राप्त है।

यहाँ राजस्थान,मध्य प्रदेश,गुजरात से सबसे ज्यादा श्रद्धालु आते है।


 सांवलिया सेठ के मंदिर के भंडारे से साढ़े 18 करोड़ रुपए से अधिक की नकदी राशि निकली है.


 उदयपुर संभाग के चित्तौड़गढ़ जिले के मंडफिया स्थित प्रसिद्ध कृष्ण धाम सांवलिया सेठ हैं, जहां हर महीने भंडारा खोला जाता है, जिसमें करोड़ों रुपये की चढ़ावे की राशि निकलती है. इस बार करीब डेढ़ महीने में भंडारा खोला गया.

सांवलिया सेठ के मंदिर के भंडार से इतनी राशि निकली है कि चार राउंड में गिनती की गई. इस बार भंडारे से 18.55 करोड़ रुपए से अधिक की राशि निकली है. इसके अलावा सोना चांदी के जेवर भी निकले हैं.

सांवलिया सेठ मंदिर मंडल अध्यक्ष भेरुलाल गुर्जर के मुताबिक 24 मार्च को खोले गए भगवान के भंडार से निकली दान राशि की गिनती 4 राउंड में गुरुवार (28 मार्च) को पूरी हुई.

सांवलिया सेठ मंदिर के भंडार से 560 ग्राम सोना, 17 किलो 413 ग्राम चांदी निकली है. वहीं, मंदिर के ऑफिस और भेंट कक्ष में नकद और ऑनलाइन चार करोड़ 36 लाख 50 हजार 831 रुपए मिले.

सांवलिया सेठ मंदिर के खजाने की गिनती के दौरान नायब तहसीलदार घनश्याम जरवाल, मंदिर मंडल के प्रशासनिक अधिकारी और कैशियर नंदकिशोर टेलर समेत कई बैंकों के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे.

Kejriwal No Relief From HC : केजरीवाल को ED की हिरासत से अभी राहत नहीं,अब अगली सुनवाई 3 अप्रैल को होगी!