मेंथल हेल्थ एक्सपर्ट्स की चिट्ठी, मीडिया से किया आग्रह- जिम्मेदारी को समझें और पॉजिटिव खबरें दिखाएं

मेंथल हेल्थ एक्सपर्ट्स की चिट्ठी, मीडिया से किया आग्रह- जिम्मेदारी को समझें और पॉजिटिव खबरें दिखाएं

मीडियावाला.इन।

नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर (Coronavirus Second Wave) से हाहाकार मचा हुआ है. चारों तरफ सिर्फ नकारात्मक खबरें ही हैं. इन स्थितियों के बीच देश के मेंटल हेल्थ एक्सपर्ट्स ने मीडिया को पत्र लिखा है. इस पत्र में हेल्थ एक्सपर्ट्स ने मीडिया से पॉजिटिव खबरें दिखाने की गुजारिश की है.

हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस मुश्किल दौर में मीडिया को अपनी जिम्मेदारी का परिचय देना चाहिए. मानसिक स्वास्थ्य पेशेवर डॉ. बीएन गंगाधर, डॉक्टर प्रतिमा मूर्ति समेत कई डॉक्टरों ने इस पत्र में लिखा है कि रिपोर्टिंग के वक्त इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि किसी तरह का डर न फैलाया जाए. उनका कहना है कि कोविड-19 से निपटने के लिए लोगों का मानसिक तौर पर मजबूत होना बेहद जरूरी है.

खत में लिखा गया है कि मीडिया और खासकर मास मीडिया की ताकत से सभी वाकिफ हैं. ये महामारी के दौर में पूरी ताकत और जज्बे से काम कर रहा है. लेकिन, कुछ बिंदू हैं जिनको हम अपने मीडिया के दोस्तों के साथ शेयर करना चाहते हैं.

घर पर ही स्वस्थ हो सकते हैं हल्के लक्षण वाले लोगहेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि जिन लोगों में कोरोना वायरस के हल्के लक्षण हैं, वो घर पर ही स्वस्थ हो सकते हैं. उनका कहना है कि कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज अगर न्यूज चैनलों, अखबरों और अन्य डिटिटल प्लेटफॉर्म के जरिए नकारात्मक खबरें देखेंगे तो मानसिक तौर पर कमजोर होंगे. हम ये नहीं कहते कि आप तथ्य न दिखाएं, लेकिन हिस्टीरिया या डर फैलाने वाली कवरेज से बचान जाना चाहिए.

न्यूज 18

st

0 comments      

Add Comment