हरियाणा कैडर की कवि #IAS @sumitamisra कहती हैं कोविड से तुमको न थकना, न डरना न हारना है

हरियाणा कैडर की कवि #IAS @sumitamisra कहती हैं कोविड से तुमको न थकना, न डरना न हारना है

मीडियावाला.इन।

Chandigarh: लखनऊ की रहने वाली एवं 1990 बैच की Haryana कैडर की IAS अधिकारी डॉक्टर सुमिता मिश्रा @sumitamisra आज कल खेत खलिहान और कोरोना से जूझते हुए भी कविता करती हैं। चंडीगढ़ में तैनात Additional Chief Secretary स्तर की अधिकारी डॉक्टर सुमिता हाल ही में Niti Ayog में डेपुटेशन पूरा कर के वापस लौटी हैं और उन्हें हरियाणा सरकार में OSD, Agriculture and Farmers Welfare Department बनाया गया है।

डॉक्टर सुमिता को हिंदी कविता के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार भी मिल चुका है और इनका कविता संग्रह ‘वक़्त के उजाले में’ का लोकार्पण 9 सितंबर 2016 को चंडीगढ़ स्थित हरियाणा राजभवन में हुआ था।डॉक्टर सुमिता मिश्रा द्वारा एक कविता आजकल सोशल मीडिया पर काफ़ी वायरल हो रही है जिसमें वे कोविड काल में लोगों से आह्वान कर रही है कि ऐसे समय में मज़बूत रहे, एक दूसरे की मदद करें और मिलकर कोविड-19 से मुक़ाबला करें क्योंकि हम सब लोगों को मिल कर ही कोविड-19 पर विजय पानी है। डॉक्टर सुमिता मिश्रा की इस कविता को @IASassociation ने भी ट्वीट कर के शेयर किया है।

 

RB

 

0 comments      

Add Comment