सावधानः फेसबुक पर वायरल हो रही इन तस्वीरों को शेयर करने से पहले जानें इसका सच

सावधानः फेसबुक पर वायरल हो रही इन तस्वीरों को शेयर करने से पहले जानें इसका सच

मीडियावाला.इन।

बाढ़ से बेहाल पूर्वोत्तर राज्य असम की कई तस्वीरें इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। हालांकि कुछ तस्वीरें ऐसी भी हैं, जिनका असम की बाढ़ से कोई सरोकार नहीं है। दरअसल कुछ तस्वीरों के साथ असम बाढ़ का नाम जोड़कर उन्हें वायरल किया जा रहा है। ऐसी ही एक तस्वीर है, जिसमें एक व्यक्ति घुटनों तक पानी के बीच अपने कंधे पर गाय के बछड़े को उठा कर ले जाता दिख रहा है। इस तस्वीर को भी असम बाढ़ से जोड़ा गया है, लेकिन जांच में सामने आया कि इस तस्वीर का असम से कोई लेना देना नहीं है। दरअसल तस्वीर को बांग्लादेशी मीडिया ने देश में आई बाढ़ का हाल बयां करते हुए आर्टिकल्स में इस्तेमाल किया है।

फेसबुक पर यह तस्वीर 19 जुलाई को पोस्ट की गई थी जिसे खबर लिखे जाने तक 4000 से ज्यादा बार तक शेयर किया जा चुका था। हालांकि सच यह है कि इस तस्वीर को ढाका टाइम्स ने 18 जुलाई को प्रकाशित अपने एक आर्टिकल में इस्तेमाल किया था। इस आर्टिकल में उत्तरी बांग्लादेश के गियाबंध इलाके में आई बाढ़ के बारे में जानकारी दी गई है। वहीं 'Bangladesh Journal' नाम की एक बांग्लादेशी वेबसाइट पर भी यह तस्वीर वहां आई बाढ़ से संबंधित न्यूज आर्टिकल्स में इस्तेमाल की गई है, हालांकि किसी भी वेबसाइट पर यह जिक्र नहीं है कि इस तस्वीर को कहां क्लिक किया गया है।

 

 

वही एक और तस्वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।इसमें एक बूढ़ा दर्जी अपने कंधों पर अपनी मशीन को लेकर जा रहा है। देखने में ऐसा लग रहा है कि दर्जी खुद तो डूब रहा है, लेकिन अपनी मशीन को किसी तरह पानी से बचाने की कोशिश कर रहा है। आपको जान कर आश्चर्य होगा कि यह तस्वीर भी बाढ़ से ग्रसित असम की नहीं है। दरअसल 1950 में एक चीनी फोटोग्राफर स्टीव मैक करी ने अपनी भारत यात्रा के दौरान इस फोटो को खींचा था। उन्होंने इस तस्वीर के माध्यम से भारतीय मॉनसून को दिखाने की कोशिश की थी। इसे बाद में नेशनल जियोग्राफिक पत्रिका के लिए कवर के रूप में भी इस्तेमाल किया गया था।

 

 

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर खूब वायरल हो रही है, जिसमें एक व्यक्ति खुद तो गले से ऊपर तक पानी में डूबा हुआ है, लेकिन एक नवजात बच्चे को अपने सिर पर उठा कर सुरक्षित जगह तक ले जाने की कोशिश कर रहा है। कुछ लोग इस फोटो को बिहार में आए बाढ़ के दौरान पिता-पुत्र का प्रेम बता कर साझा कर रहे हैं, तो कुछ लोग इसे असम बाढ़ की तस्वीर बता रहे हैं। हालांकि यह तस्वीर असल में न तो बिहार की है और न ही असम की। यह तस्वीर 2016 में आंध्र प्रदेश में आयी बाढ़ के दौरान ली गई थी, जहां एक पिता अपनी बीमार बेटी को गहरे पानी में सिर पर उठाकर चल रहे थे ताकि वो अपनी बेटी को नजदीक के किसी अस्पताल में ले जा सकें। 29 सितंबर, 2016 को डेली मेल में भी यह खबर छपी थी।

Dailyhunt

0 comments      

Add Comment