साउथ अफ्रीका फिर चोकर्स साबित, 5वीं बार वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में हारी, पांच बार का विजेता ऑस्ट्रेलिया आठवीं बार विश्व कप फाइनल में

रविवार को भारत से मुकाबला

377

साउथ अफ्रीका फिर चोकर्स साबित, 5वीं बार वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में हारी, पांच बार का विजेता ऑस्ट्रेलिया आठवीं बार विश्व कप फाइनल में

कोलकाता: वनडे विश्व कप 2023 के दूसरे सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका को तीन विकेट से हरा दिया । कोलकाता के ईडन गार्डेन्स स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सभी विकेट खोकर 212 रन बनाए। इसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 47.2 ओवर में सात विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। अफ्रीकी टीम पांचवीं बार विश्व कप के सेमीफाइनल में हारकर बाहर हुई है।  अब रविवार को ऑस्ट्रेलिया का सामना भारत से होगा।

साउथ अफ्रीका ने वर्ल्ड कप 2023 के दूसरे सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 213 रन का टारगेट दिया । जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 36 ओवर में 6 विकेट पर 182 रन बना लिए ।

स्टीव स्मिथ 30 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें जेराल्ड कूट्जी ने विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक के हाथों कैच कराया।तबरेज शम्सी ने ग्लेन मैक्सवेल (एक रन) और मार्नस लाबुशेन (18 रन) को आउट किया। ट्रैविस हेड 62 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें केशव महाराज ने बोल्ड कर दिया।

12 से 14 ओवर के बीच साउथ अफ्रीकी फील्डर्स ने 3 कैच छोड़े थे। हेड ने इस वर्ल्ड कप में दूसरी 50 प्लस स्कोर बनाया। उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ धर्मशाला शतक जमाया था।मिचेल मार्श जीरो पर आउट हुए। उन्हें कगिसो रबाडा ने वान डर डसन के हाथों कैच कराया। इससे पहले, ऐडन मार्करम ने अपनी पहली बॉल पर डेविड वॉर्नर (29 रन) को बोल्ड किया। 193 रन पर ऑस्ट्रेलिया का सातवां विकेट गिरा । जोश इंग्लिस 49 गेंद में 28 रन बनाकर गोराल्ड कोइत्जे ने उन्हें बोल्ड किया।

ट्रेविस हेड 62 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें केशव महाराज ने बोल्ड कर दिया। हेड ने इस वर्ल्ड कप में दूसरी 50 प्लस स्कोर बनाया। उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ धर्मशाला शतक जमाया था।मिचेल मार्श जीरो पर आउट हुए। उन्हें कगिसो रबाडा ने वान डर डसन के हाथों कैच कराया। इससे पहले, ऐडन मार्करम ने अपनी पहली बॉल पर डेविड वॉर्नर (29 रन) को बोल्ड किया।

पावरप्ले में कंगारुओं की तेज शुरुआत, मार्करम-रबाडा ने दिए झटके
पावरप्ले के पहले 6 ओवर में ऑस्ट्रेलिया ने शानदार शुरुआत की। ट्रैविस हेड और डेविड वॉर्नर ने 6 ओवर्स में 60 रन बना लिए। छठे ओवर में रबाडा ने 21 रन दिए।

7वें ओवर में कप्तान टेम्बा बावुमा ने बदलाव किया और ऐडन मार्करम ने वॉर्नर का विकेट दिलाया। यहां से साउथ अफ्रीका का कमबैक हुआ और 8वें ओवर में मिचेल मार्श भी आउट हो गए। आखिरी 4 ओवर में ऑस्ट्रेलिया 14 रन ही बना सका और साउथ अफ्रीका को 2 विकेट हासिल हुए।

साउथ अफ्रीका 212 रन पर आउट, मिलर का शतक
अफ्रीकी टीम टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 49.4 ओवर में 212 रन पर ऑलआउट हो गई।डेविड मिलर ने 101 रन की शतकीय पारी खेली। उन्होंने दूसरा वर्ल्ड कप शतक जमाया। मिलर ने छक्के के साथ सेंचुरी पूरी की। वे वर्ल्ड कप के नॉकआउट में सेंचुरी जमाने वाले पहले साउथ अफ्रीकी बल्लेबाज बन गए हैं।

इससे पहले, फॉफ डु प्लेसिस ने 2015 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ ऑकलैंड में 82 रन बनाए थे। मिलर के अलावा, हेनरिक क्लासन 47 रन बनाकर आउट हुए। मिचेल स्टार्क ने 3 विकेट चटकाए। जोश हेजलवुड, पैट कमिंस और ट्रेविस हेड को 2-2 विकेट मिले।

डेथ ओवर्स में आया मिलर का शतक
डेथ ओवर्स में साउथ अफ्रीकी टीम बड़ा स्कोर बनाने में असफल रही। हालांकि, इन ओवर्स में डेविड मिलर ने अपना शतक पूरा किया। डेथ ओवर्स के दौरान साउथ अफ्रीका की ओर से डेविड मिलर क्रीज पर थे। टीम ने हर ओवर में बाउंड्री निकालने की कोशिश की। मिलर ने बड़े शॉट खेले और शतक पूरा किया।

ऑस्ट्रेलिया ने इस दौरान शानदार गेंदबाजी की। बॉलर्स ने बाउंड्री लगने पर प्रेशर नहीं लिया और सटीक गेंदबाजी की। 44वें, 47वें और 48वें ओवर में टीम ने विकेट लिए और मोमेंटम बनने ही नहीं दिया। डेथ ओवर्स में ऑस्ट्रेलियाई बॉलर्स ने 4 विकेट निकाल कर साउथ अफ्रीका को ऑलआउट कर दिया।

क्लासन-मिलर ने अफ्रीका को संभाला, हेड ने फिर दबाव बनाया
मिडिल ओवर्स के शुरुआत में साउथ अफ्रीकी बल्लेबाज दबाव में दिखे। 12वें ओवर में 24 रन पर चौथा विकेट गंवाने के बाद हेनरिक क्लासन और डेविड मिलर ने पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने 31वें ओवर तक बल्लेबाजी की। इस बीच क्लासेन और मिलर की जोड़ी ने 95 रन की साझेदारी करके अफ्रीकी पारी को आगे बढ़ाया।

अफ्रीकी टीम दबाव से उबर ही रही थी कि 31वां ओवर लेकर आए टेविस हेड ने लगातार दो विकेट लेकर फिर दबाव बना दिया। उन्होंने क्लासन को आउट करके 95 रन की साझेदारी तोड़ी और फिर मार्को यानसन को जीरो पर पवेलियन की राह दिखाई।ऐसे में मिलर ने रन बनाने का जिम्मा संभाला और वनडे करियर की 25वीं फिफ्टी पूरी की। बीच के 30 ओवर में साउथ अफ्रीका ने 4 विकेट खोकर 101 रन बनाए। 40 ओवर के बाद अफ्रीकी टीम का स्कोर 156/6 रहा।

खराब रही साउथ अफ्रीका की शुरुआत, बावुमा जीरो पर आउट
टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी साउथ अफ्रीकी टीम की शुरुआत खराब रही। टीम ने एक रन के स्कोर पर कप्तान टेम्बा बावुमा का विकेट गंवाया। उन्हें मिचेल स्टार्क ने पहले ही ओवर में आउट किया। बावुमा खाता भी नहीं खोल सके।
10 रन के अंदर ही अफ्रीकी टीम ने दूसरे ओपनर क्विंटन डी कॉक (3 रन) का भी विकेट गंवा दिया। डी कॉक को जोश हेजलवुड ने आउट किया। शुरुआत के 10 ओवर में साउथ अफ्रीका ने 18 रन बनाने में दो विकेट गंवाए। यहां टीम का स्कोर 18/2 रहा।

संक्षिप्त स्कोर:
दक्षिण अफ्रीका: 49.4 ओवर में 212 रन पर ऑल आउट (डेविड मिलर 101, हेनरिक क्लासेन 47; पैट कमिंस 3/51, मिशेल स्टार्क 3/34, जोश हेज़लवुड 2/12)।
ऑस्ट्रेलिया: 47.2 ओवर में 215/7 (ट्रैविस हेड 62; तबरेज़ शम्सी 2/42, गेराल्ड कोएत्ज़ी 2/47