Spices Test Report Not Received : प्रदेश में 350 से अधिक सैंपल लिए, किसी की जांच रिपोर्ट नहीं आई! 

इंदौर से भी मसाला निर्माताओं के 70 से अधिक सैंपल लिए गए!  

210

Spices Test Report Not Received : प्रदेश में 350 से अधिक सैंपल लिए, किसी की जांच रिपोर्ट नहीं आई! 

Indore : नामी कंपनियों के मसालों पर कई देशों में प्रतिबंध लगने के बाद देशभर में मसालों की जांच के लिए अभियान शुरू किया गया। जिसमें प्रदेश के सभी जिलों में कारखानों से सैंपल लिए जा रहे हैं। एक मई से शुरू हुए अभियान में अभी तक प्रदेशभर से 350 से अधिक सैंपल लिए जा चुके। अभियान के तहत इंदौर में 70 से अधिक सैंपल लिए गए। लेकिन, अभी तक एक भी सैंपल की जांच रिपोर्ट नहीं आई।

इसका कारण यह है कि राज्य प्रयोगशाला भोपाल में भी मसालों में कीटनाशक की मिलावट की जांच नहीं होती है। ऐसे में इन सैंपलों को भोपाल से जांच के लिए शासन द्वारा अधिकृत लैब में कीटनाशक सहित अन्य रसायनों का पता लगाने के लिए भेजा जा रहा है।

सिंगापुर में नामी कंपनियों के मसालों की जांच में कीटनाशक पाया गया था, इसके बाद इनकी बिक्री पर प्रतिबंधित कर दिया गया है। वहीं हांगकांग में भी इनपर प्रतिबंध लगा दिया है। इसके बाद कई देशों ने मसालों की जांच शुरू कर दी है। उल्लेखनीय है कि इन देशों में हुई जांच के सैंपल में एथिलीन ऑक्साइड की मात्रा अधिक पाई गई थी। इसके बाद मद्रास करी मसाला, सांभर मसाला, फिश करी मसाला सहित अन्य मसालों पर प्रतिबंध लगाया गया है। इसके बाद फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एफएसएसएआइ) ने पूरे देश में मसालों की जांच के आदेश जारी किए हैं।

इंदौर से 70 से अधिक सैंपल लिए 

अभियान के तहत इंदौर में 70 से अधिक सैंपल लिए जा चुके हैं। यहां जिला प्रशासन ने तीन टीमों का गठन किया है, जो शहर में मसालों के नमूने ले रही हैं। यह जांच अभियान 30 मई तक चलाया जाएगा। खाद्य विभाग की टीम शहर के बड़े निर्माताओं के साथ ही छोटे निर्माताओं के मसालों के भी नमूने ले रही है।

प्रदेश में सैकड़ों कारखाने, विदेशों में निर्यात

मप्र में मसाले बनाने के सैकड़ों कारखाने हैं। जो अलग-अलग जिलों में स्थापित है। यह देश के अलावा मसालों का निर्यात विदेश में भी करते हैं। यानी प्रदेश में मसालों का बड़ा कारोबार होता है। अभी तक प्रदेशभर से नमूने लेकर जो भोपाल स्थित प्रयोगशाला में भेजे जाते थे। उनमें कीटनाशक की मिलावट की जांच नहीं होती है। अधिकारियों का कहना है कि यदि इन मसालों में मिलावट पाई जाती है तो इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी मनीष स्वामी मुताबिक, प्रदेशभर में मसालों के सैंपल लिए जा रहे हैं। इंदौर से अब तक 70 से अधिक सैंपल लिए जा चुके हैं। जिन्हें जांच के लिए भोपाल प्रयोगशाला भेजा गया है। हमारी टीम अलग-अलग क्षेत्रों में जाकर मसालों के सैंपल ले रही है।