Monday, February 24, 2020
100 साल का हुआ यह भारतीय क्रिकेटर, भारत के पहले टेस्ट मैच से है साथ

100 साल का हुआ यह भारतीय क्रिकेटर, भारत के पहले टेस्ट मैच से है साथ

मीडियावाला.इन।

मुंबई. भारत के सबसे उम्रदराज प्रथम श्रेणी क्रिकेटर वसंत रायजी ने रविवार को अपनी जिंदगी का शतक पूरा किया. दाएं हाथ के बल्लेबाज रायजी 100 साल के हो गए हैं. उन्होंने 1940 के दशक में नौ प्रथम श्रेणी मैच खेले थे, जिसमें 277 रन बनाए थे. उनका सर्वाधिक स्कोर 68 रन था.
रायजी भारतीय क्रिकेट के शुरुआत से अभी तक के सफर के गवाह हैं. जब भारत ने बॉम्बे जिमखाना में साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहला टेस्ट मैच खेला था, तो उस समय रायजी 13 साल के थे. वह बंबई (अब मुंबई) और बड़ौदा के लिए खेला करते थे.
रायजी के जन्मदिन के मौके पर भारत के महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव वॉ के साथ एक वीडियो शेयर किया.                   जिसमें सचिन तेंदुलकर उनके साथ केक काटते हुए नजर आ रहे हैं. सचिन ने वीडियो शेयर करते हुए उनको 100वें जन्मदिन की शुभकामनाएं दी. सचिन ने कहा कि उन्होंने और वॉ ने उनके साथ शानदार समय बिताया और इतिहास की कुछ अनसुनी कहानियां सुनी. उन्हाेंने क्रिकेट के बारे में यादों का खजाना आगे तक पहुंचाने के लिए रायजी का शु‌क्रिया भी अदा किया. रायजी ने लाला अमरनाथ, विजय मर्चेंट, सीके नायडू और विजय हजारे के साथ ड्रेसिंग रूम साझा किया है.

Sachin Tendulkar✔@sachin_rt

Wishing you a very special 1⃣0⃣0⃣th birthday, Shri Vasant Raiji.

Steve & I had a wonderful time listening to some amazing cricket 🏏 stories about the past.
Thank you for passing on a treasure trove of memories about our beloved sport.

17.6K

12:08 PM - Jan 26, 2020

Twitter Ads info and privacy

1,202 people are talking about this



भारत के पहले शतक के गवाह हैं रायजी
टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार रायजी ने कहा कि उन्होंने लाला अमरनाथ के ऐतिहासिक शतक को देखा था. लाला अमरनाथ  ने 118 रन की पारी खेली थी और वह टेस्ट क्रिकेट में शतक जड़ने वाले पहले भारतीय बने थे. उन्होंने उस पल को याद करते हुए कहा कि उस समय वह 13 साल के आस पास के थे और उन्हें अभी तक अच्छे से याद है कि ‌ कैसे उनके शतक पर दर्शक ‌शोर मचा रहे थे.



दिल से नहीं निकाल पाए क्रिकेट
नौ फर्स्ट क्लास मैच खेलने के बाद वसंत रायजी ने इसे छोड़ने का फैसला ले लिया और वह चार्टर्ड अकाउंटेंट बन गए. उन्होंने अपना करियर तो किसी दूसरे फील्ड में बना लिया था, मगर वह अपने दिल से क्रिकेट को नहीं निकाल पाए. जब भी उन्हें मौका मिलता, वे क्रिकेट के बारे में बात करते, मैच देखते और इसके बारे में लिखते थे. रायजी इस उम्र में भी विराट कोहली और उनकी टीम के ज्यादा से ज्यादा मैच देखने की कोशिश करते हैं. उन्होंने कहा कि उनके लिए क्रिकेट का मतलब काफी कुछ है. उन्होंने कहा कि मैंने क्रिकेट खेला, काफी अच्छा क्रिकेट देखा भी, क्रिकेट पर काफी किताबें भी लिखीं. जिसमें से उनकी सबसे पसंदीदा किताब सीके नायडू पर लिखी किताब है.

वॉ से मांगा खास गिफ्ट
कुछ समय पहले ही सचिन तेंदुलकर और वॉ उनसे मिलने गए थे. इस मौके पर ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज वॉ ने जब उनसे पूछा कि बर्थडे पर उन्हें क्या गिफ्ट चाहिए, तो उन्होंने कहा कि एक कार्ड अच्छा होगा. उन्होंने अपने परिवार को भी ऐसा ही करने को कहा.
 

Dailyhunt

0 comments      

Add Comment