विराट कोहली ने दिवाली से पहले किसे दिया ‘बोनस’?

विराट कोहली ने दिवाली से पहले किसे दिया ‘बोनस’?

मीडियावाला.इन।                                                 टीम इंडिया ने पुणे में पारी और 137 रन से धमाकेदार जीत दर्ज की. ये विराट जीत एतिहासिक है. महज 4 दिन में टीम इंडिया ने पुणे टेस्ट अपने नाम किया और साथ ही सीरीज पर कब्जा किया. सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त के साथ ही टीम इंडिया घरेलू मैदान पर लगातार सबसे ज्यादा सीरीज जीतने वाली टीम बन गई है.

अफ्रीका को हराया, ऑस्ट्रेलिया को पछाड़ा
ये टीम इंडिया की हिंदुस्तान की जमीन पर लगातार 11वी टेस्ट सीरीज जीत है. इससे पहले घरेलू मैदान पर सबसे ज्यादा टेस्ट सीरीज जीतने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के नाम था. ऑस्ट्रेलिया ने दो बार अपने ही घर में लगातार 10 टेस्ट सीरीज जीती हैं. लेकिन विराट की टीम ने एक ही तीर से ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका दोनों का ही शिकार कर दिया.

धोनी को भी पीछे छोड़ा
50वें टेस्ट में कप्तानी कर रहे विराट कोहली ने मैच जीतने के मामले ही नहीं बल्कि अब तो सीरीज जीतने के मामले में भी महेंद्र सिंह धोनी को पीछे छोड़ दिया है. ये विराट की कप्तानी में टीम इंडिया की 13वीं टेस्ट सीरीज जीत है.

धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने 12 टेस्ट सीरीज जीती. हर मैच के साथ ही विराट कोहली भारत के सबसे बड़े कप्तान बनते जा रहे हैं. विराट अब पहले दिन से ही मैच में रणनीति बनाकर चलते हैं और उसी हिसाब से जीत की कहानी गढ़ते हैं.

पुणे में 4 दिन में रचा चक्रव्यूह
पुणे टेस्ट में विराट कोहली ने चक्रव्यूह रचा. पहली पारी में विराट कोहली दोहरा शतक लगा चुके थे और बड़ी आसानी से तिहरा शतक भी लगा सकते थे. लेकिन उन्होंने अपने निजी रिकॉर्ड को छोड़कर टीम इंडिया की जीत की सोची.

601 रन के स्कोर पर विराट ने पारी घोषित कर दी. और दूसरे ही दिन दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों को मैदान पर उतरने को मजबूर किया. टीम इंडिया ने दूसरे दिन के आखिरी सेशन के 15 ओवर में ही मेहमान टीम के 3 विकेट हासिल कर लिए.

मैच के तीसरे दिन दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी सिर्फ 275 रन पर सिमट गई. इस वक्त टीम इंडिया के पास 326 रन की बढ़त थी.

SA को फॉलोऑन खिलाने वाले पहले भारतीय कप्तान
विराट ने पहले गेंदबाजों से पूछा कि क्या वो चौथे दिन की शुरुआत से ही गेंदबाजी करना चाहेंगे, इसके बाद ही उन्होंने दक्षिण अफ्रीका को फॉलोऑन दिया. विराट दक्षिण अफ्रीका को फॉलोऑन खिलाने वाले पहले भारतीय कप्तान बने, और फिर भारतीय गेंदबाजों ने टीम इंडिया की जीत चौथे दिन ही पक्की कर दी.

इस जीत के साथ ही टेस्ट में नंबर वन टीम इंडिया वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के प्वाइंट्स टैली में दूसरी टीमों को कहीं पीछे छोड़ दिया है और अंकों के अंतर को बहुत बढ़ा लिया है.

टीम इंडिया की ये विराट जीत के नायक कोई एक खिलाड़ी नहीं है. हर डिपार्टमेंट में टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन किया. बल्लेबाजों ने रन बनाए, तो गेंदबाजों ने हर टेस्ट में 20 विकेट हासिल कर टीम इंडिया की कामयाबी में अहम रोल अदा किया.

0 comments      

Add Comment