होशंगाबाद: दुष्कर्म पीड़िता ने फांसी लगाकर दी जान, सुसाइट नोट में लिखा...

होशंगाबाद: दुष्कर्म पीड़िता ने फांसी लगाकर दी जान, सुसाइट नोट में लिखा...

मीडियावाला.इन।

हैदराबाद और उन्नाव का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले में एक दुष्कर्म पीड़िता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस की जांच में पीड़िता के कमरे से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दो दिन पहले नाबालिग ने दो युवकों के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था, जिसमें दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया गया था।

घटना के वक्त कोई नहीं था घर पर

10 दिसंबर को करीब 3 बजे पीड़िता के पिता घर पहुंचे तो अंदर से कमरा बंद मिला। खिड़की से देखने पर नाबालिग टीन की छत में लगे पाइप पर लटकी हुई थी। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने नाबालिग के शव को उतारकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है। पीड़िता के पिता की मानें तो उस वक्त घर में कोई नहीं था, सभी लोग बाहर गए हुए थे। घर पर पीड़िता अकेली ही थी।

सुसाइड नोट में लिखा-घटना के बाद से परेशान थी

पुलिस ने कमरे से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है, जिसमें उल्लेख है कि वह घटना के बाद से ही परेशान थी। इसके अलावा अन्य कई बातें लिखी हुई हैं। पुलिस ने सुसाइड नोट को जब्त कर मामले की जांच शुरू कर दी। पीड़िता ने दो दिन पहले ही दो युवकों के खिलाफ सिटी कोतवाली में दुष्कर्म का केस दर्ज कराया था।

 

ये है पूरा मामला

बीते 8 दिसंबर की रात को महिमा नगर निवासी दो युवक नाबालिग को घर से अपहरण कर अपने साथ ले गए थे। इसके बाद उनमें से एक आरोपी ने महिमा नगर स्थित अपने घर की छत पर ले जाकर नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया था। वहीं दूसरे आरोपी ने अपने साथी की करतूत में उसका सहयोग किया था, जिसकी शिकायत कोतवाली पुलिस में की गई थी। मामले में कोतवाली पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर आईपीसी की धारा 363, 376 समेत 3-4 पोक्सो एक्ट का प्रकरण दर्ज किया था।

 

source: oneindia.com

0 comments      

Add Comment