Friday, December 13, 2019
मध्य प्रदेश पर भारी पड़ सकते हैं अगले 48 घंटे, मौसम विभाग ने जारी किया तेज बारिश का अलर्ट

मध्य प्रदेश पर भारी पड़ सकते हैं अगले 48 घंटे, मौसम विभाग ने जारी किया तेज बारिश का अलर्ट

मीडियावाला.इन।

मौसम विभाग फिर से प्रदेश में भारी बारिश की चेतावनी दे रहा है. पूर्वानुमान है कि अगले दो दिन तक पूरे प्रदेश में फिर से झमाझम बारिश हो सकती है.

मध्य प्रदेश इन दिनों तर-बतर हो रहा है. हर तरफ बारिश हो रही है और नदी-नाले उफन रहे हैं. इस साल प्रदेश में देर से बारिश शुरू हुई है. लेकिन बादलों ने जब बरसना शुरू किया तो पहले तो खुशी छा गयी लेकिन जैसे जैसे नदी-नालों का जलस्तर बढ़ना और जलभराव शुरू हुआ, लोग परेशान हो उठे. सिर्फ मध्य प्रदेश में ही नहीं, पूरे देश में इस बार पिछले साल के मुकाबले दोगुनी बारिश हुई. भोपाल में 47 दिन में 100 सेमी पानी बरस चुका है, जो सामान्य से 40 सेमी ज़्यादा है. वहीं मौसम विभाग ने एमपी के 28 जिलों में अगले दो दिन तक तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है.

लबालब हुआ बड़ा तालाब 
भोपाल के वाशिंदों को मानसून का बेसब्री से इंतज़ार था. शहर की लाइफलाइन और शान बड़ा तालाब सूख कर मैदान बन गया था. मानसून मेहरबान हुआ और देखते ही देखते हफ्ते भर में तालाब भर गया. तालाब का पेट भरा और उसके फुल टैंक लेबल 1666.80 फ़ीट पर पहुंचते ही भदभदा डैम के गेट खोल दिए गए. शहर के केरवा डैम का जल स्तर भी 509.93 मीटर पर पहुंच गया.
 


मौसम विभाग फिर से प्रदेश में भारी बारिश की चेतावनी दे रहा है. पूर्वानुमान है कि अगले दो दिन तक पूरे प्रदेश में फिर से झमाझम बारिश हो सकती है. सागर दमोह, टीकमगढ़, पन्ना, छतरपुर, रीवा, सतना सीधी, होशंगाबाद, हरदा, देवास सहित 28 जिलों में तेज बारिश का अलर्ट है.

भोपाल में हो रही तेज बारिश से शहर भर में जगह-जगह जलभराव है. सड़कों पर जगह-जगह बड़े गढ्ढे हो गए हैं, जो जानलेवा साबित हो रहे हैं. तेज़ बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. सबसे ज्यादा परेशानी निचले इलाकों में हैं. नदी नाले सब उफान पर हैं.
 



पानी-पानी हुआ बैतूल 
बैतूल ज़िले में पिछले 24 घंटे से जारी बारिश के कारण नदियां और पहाड़ी क्षेत्रों में नदी नाले उफान पर हैं. कई इलाकों का सम्पर्क जिला मुख्यालय से टूट गया है. निवारी गांव में एक युवक बाइक सहित नाले में बह गया. जिला प्रशासन ने पूरे जिले में अलर्ट जारी किया है और महकमे को मुस्तैद रहने की सख्त हिदायत दी है. भैंसदेही, भीमपुर और घोड़ाडोंगरी ब्लॉक बारिश को लेकर संवेदनशील क्षेत्र हैं, वहां विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किए गए हैं.

मंदसौर में आफत की बारिश 
मंदसौर में भारी बारिश के कारण तेलिया तालाब का वेस्ट वेयर आश्रम के पास का उपरी हिस्सा टूट गया, जिससे कई निचले इलाकों में पानी भर गया. अभिनंदन नगर, यशनगर सहित करीब 50 गांवों का संपर्क टूट गया है. कई बस्तियों और काचरिया चंद्रावत, हेदरवास ,गुजरदा, बाज खेड़ी सहित कई गांव में पानी घुस गया है.
 



अशोकनगर में डैम के 6 गेट खुले 
अशोक नगर में भारी बारिश के बाद लक्ष्मी बाई जलाशय राजघाट बांध के 16 गेट खोल दिए गए हैं. यहां बना पुल उत्तर प्रदेश को जोड़ता है. यहां पानी पुल के 7 फुट ऊपर से बह रहा है. यहां बसें और अन्य वाहन पानी फंस गए हैं.

सतना -चला चली की बेला में खूब बरसा सावन 
पूरे महीने बारिश की एक-एक बूंद के लिए तरसाने वाला सावन अब जाते-जाते सतना में खूब बरस रहा है. ऐसी ज़ोरदार बारिश पूरे इलाके में हुई कि शहर की सड़कें जलमग्न हो गयीं. 14 घंटे लगातार हुई बारिश से जनजीवन बुरी तरह अस्त-व्यस्त हो गया. सड़कें दरिया बन गयीं जिसमें वाहन रेंगते नज़र आए.

डिंडौरी-उफान पर नर्मदा 
डिंडौरी जिला मुख्यालय सहित आसपास के इलाकों में रात से ज़ोरदार बारिश हो रही है. नर्मदा सहित अन्य नदी नालों का तेजी से जलस्तर बढ़ रहा है. नर्मदा तट स्थित कई मंदिर डूब गए हैं और कई गांवों का जिला मुख्यालय से संपर्क टूट गया है.

 

0 comments      

Add Comment