महामारी के दौरान बच्चों की मनोदशा का वर्णन ब्लॉग के द्वारा किया है आईपीएस मनोज कुमार सिंह की जुड़वां बेटियों ने

महामारी के दौरान बच्चों की मनोदशा का वर्णन ब्लॉग के द्वारा किया है आईपीएस मनोज कुमार सिंह की जुड़वां बेटियों ने

मीडियावाला.इन।

भिण्ड से परानिधेश भारद्वाज की रिपोर्ट

वास्तव में इस कोरोना महामारी ने जिंदगी के बहुत कीमती क्षण छीन लिए। खासकर उन बच्चों के लिए तो यह काफी कष्टप्रद रहा जो पहले ही से सरकारी सिस्टम के चलते पेरेंट्स के तबादलों के कारण ज्यादा दोस्त नहीं बना पाते। जब तक दोस्त बनते हैं तब तक पेरेंट्स का ट्रांसफर हो जाता है। ऐसे में वह परिवार तक ही सिमट जाते हैं। ऐसी ही जुड़वां बहनों ने अपने अनुभव साझा किए हैं। बेशक हम जिंदगी के साल गुजर लें, लेकिन जो बात दोस्तों के साथ ग्रुप में होती है वह कॉल पर नहीं, चाहे वीडियो कॉल ही क्यों ना कर लो। ऐसे में स्कूल के उन पलों की याद पर लिखा गया, पढ़िये भिण्ड पुलिस अधीक्षक आईपीएस मनोज कुमार सिंह की बेटियों का यह ब्लॉग "बहुत याद आती है यार"...

Bahut Yaad Aati Hai Yaar (बहुत याद आती है यार)
* https://thethinkingtwins.home.blog/2021/06/10/bahut-yaad-aati-hai-yaar-%e0%a4%ac%e0%a4%b9%e0%a5%81%e0%a4%a4-%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%a6-%e0%a4%86%e0%a4%a4%e0%a5%80-%e0%a4%b9%e0%a5%88-%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%b0/ RB

0 comments      

Add Comment