Sulochana Passed Away : परदे पर कई अभिनेताओं की मां बनी सुलोचना का निधन!

अमिताभ सार्वजनिक रूप से उनके पैर छूते, अपने ब्लॉग में कई बार जिक्र किया।

709

Sulochana Passed Away : परदे पर कई अभिनेताओं की मां बनी सुलोचना का निधन!

Mumbai : फिल्मों में कई अभिनेताओं की मां का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री सुलोचना लाटकर का निधन हो गया। वे अमिताभ और धर्मेंद्र जैसे दिग्गज अभिनेताओं की भी ऑनस्क्रीन बन चुकी थी। 94 साल की सुलोचना ने जीवन के ज्यादा हिस्सा सिनेमा में बिताया। बीते दिनों से उन्हें अस्थमा की परेशानी बढ़ गई थी। सुलोचना ने हिंदी और मराठी मिलाकर 250 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया।

तबीयत ज्यादा बिगड़ने के बाद दादर के सुश्रुषा अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया गया था। उनका अंतिम संस्कार आज सोमवार को दादर के शिवाजी पार्क शमशान घाट में शाम 5 बजे किया जाएगा। प्रभा देवी स्थित उनके घर पर अंतिम दर्शन के लिए कई फ़िल्मी हस्तियां पहुंची।

सुलोचना ने कई सारी फिल्मों में अमिताभ की मां का रोल निभाया है। इन फिल्मों में रेशमा और शेरा, मजबूर और ‘मुकद्दर का सिकंदर’ जैसी फिल्में हैं। इसके अलावा उन्होंने दिलीप कुमार और धर्मेंद्र के साथ भी काम किया। अमिताभ बच्चन रियल लाइफ में भी सार्वजनिक रूप से उनके पैर छूते थे और अपने ब्लॉग में कई बार उनका जिक्र किया।

IMG 20230605 WA0054

लीड एक्ट्रेस के रूप में शुरुआत
मुख्य नायिका के रूप में उनके कुछ यादगार शुरुआती मराठी फिल्में थीं ससुरवास, वाहिनीच्या बंगद्य, मीत भाकर, संगत्ये आइका, शक्ति जौ और इसके अलावा भी कई फ़िल्में। 30 जुलाई, 1928 को बेलगावी (अब कर्नाटक में) के खडाकलत गांव में जन्मीं सुलोचना ने 1946 में अपनी फिल्मी करियर की शुरुआत की। उनकी शीर्ष बॉलीवुड फिल्मों में बिमल रॉय की क्लासिक ‘बंदिनी’ (1963) थी, जिसे आज भी याद किया जाता है।

हिंदी फिल्मों में उन्होंने अभिनय किया उनमें जब प्यार किसी से होता है, दुनिया, अमीर-गरीब, बहारों के सपने, कटी पतंग, मेरे जीवन साथी, प्यार मोहब्बत, जॉनी मेरा नाम, वारंट, जोशीला, डोली, प्रेम नगर, आक्रमण, भोला भाला’, त्याग, आशिक हूं बहारों का, अधिकार, नई रोशनी, आए दिन बहार के, आई मिलन की बेला, अब दिल्ली दूर नहीं, मजबूर, गोरा और काला’, देवर, कहानी किस्मत की, तलाश और ‘आजाद’ शामिल हैं।

पुरस्कार व सम्मान
उन्हें 1999 में पद्मश्री और 2004 में फिल्मफेयर लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया था। महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के सर्वोच्च सम्मान ‘महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार’ से सम्मानित किया। सीएम एकनाथ शिंदे, डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस, विधानसभा में विपक्ष के नेता अजित पवार, एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले, शिवसेना-यूबीटी नेताओं और अन्य हस्तियों सहित शीर्ष नेताओं ने उनके निधन पर शोक जताया।