उज्जैन में 10 जुलाई को निकलेगी भगवान महाकालेश्वर की प्रथम सवारी

इस बार अधिकमास होने के कारण भगवान महाकालेश्वर की 10 सवारियाँ निकाली जायेंगी

437

उज्जैन में 10 जुलाई को निकलेगी भगवान महाकालेश्वर की प्रथम सवारी

उज्जैन से मुकेश भीष्म की रिपोर्ट

उज्जैन: उज्जैन के विश्व प्रसिद्ध श्री महाकालेश्वर मंदिर में श्रावण-भादौ मास 4 जुलाई 2023 से प्रारंभ होकर 11 सितम्बर 2023 तक मनाया जायेगा।इस महती आयोजन के मद्देनजर कलेक्टर श्री कुमार पुरूषोत्तम और पुलिस अधीक्षक श्री सचिन शर्मा ने प्रशासनिक संकुल भवन के सभाकक्ष में आगामी श्रावण-भादौ मास -2023 में भगवान महाकालेश्वर के दर्शन, भगवान महाकालेश्वर की निकलने वाली सवारी और नागपंचमी पर्व पर की जाने वाली दर्शन व्यवस्था की समीक्षा हेतु बैठक की।

बैठक में श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति के प्रशासक श्री संदीप सोनी द्वारा पावर पाइंट प्रजेन्टेशन के माध्यम से आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या को ध्यान में रखते हुए की जाने वाली व्यवस्थाओं की जानकारी दी। बताया गया कि इस बार अधिकमास होने के कारण भगवान महाकालेश्वर की 10 सवारियाँ निकाली जायेंगी। आगामी 10 जुलाई को श्रावण मास की प्रथम सवारी निकाली जायेगी। आगामी 21 अगस्त सोमवार को नागपंचमी पर्व भी रहेगा तथा सवारी भी निकाली जायेगी और 11 सितम्बर को शाही सवारी निकाली जायेगी। बैठक में जानकारी दी गई कि श्रावण-भादौ मास में भगवान महाकालेश्वर की भस्मार्ती 4 जुलाई से 11 सितम्बर तक प्रात: कालीन पट खुलने का समय प्रात: 3 बजे होगा तथा प्रत्येक सोमवार प्रात: 2.30 बजे होगा। भस्मार्ती के दौरान कार्तिकेय मण्डपम् की अंतिम 3 पंक्तियों से श्रद्धालुओं के लिये चलित भस्मार्ती दर्शन व्यवस्था की जायेगी ताकि अधिक से अधिक लोगों को दर्शन हो सके।