आज मध्यप्रदेश में आदिवासी सम्मान का दिन है…

1134

वरिष्ठ पत्रकार कौशल किशोर चतुर्वेदी की विशेष रिपोर्ट 

मध्यप्रदेश में आज आदिवासी सम्मान का दिन है। बिरसा मुंडा के सम्मान में आज केंद्र सरकार द्वारा अनुमोदित जनजातीय गौरव दिवस घोषित किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में न केवल भगवान बिरसा मुंडा को नमन कर जनजातीय गौरव दिवस में शरीक होंगे बल्कि गौंड रानी कमलापति स्टेशन का लोकार्पण भी करेंगे।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा इस ऐतिहासिक क्षण के साक्षी बनेंगे। भोपाल का जंबूरी मैदान और रानी कमलापति स्टेशन इसका गवाह रहेगा। आदिवासी नेता मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शिव-विष्णु के संग बिरसा मुंडा के सम्मान में खुद को भी गौरवान्वित महसूस करेंगे। निश्चित तौर पर मध्यप्रदेश से शुरू हुए आदिवासी सम्मान के इस कार्यक्रम का अनुसरण भाजपा शासित अन्य राज्य भी करेंगे।

और आदिवासी सम्मान से शुरू हुआ यह सिलसिला समाज के दूसरे वर्ग को लेकर भी सम्मान की श्रंखला को आगे बढाएगा। यह ऐतिहासिक कार्यक्रम जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच का आइना बनेगा तो शिवराज सिंह चौहान की मुख्यमंत्री के बतौर हर वर्ग के प्रति प्रेम और विष्णु दत्त शर्मा की सफल संगठनात्मक क्षमता का साक्षी भी बनेगा। भाजपा के इन दोनों फैसलों की मुरीद शायद कांग्रेस भी है। जवाहरलाल नेहरू के जन्म दिवस पर बाल कांग्रेस का गठन करने वाली कांग्रेस भी भाजपा के इन फैसलों का विरोध करने की स्थिति में नहीं है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 नवंबर को बिरसा मुंडा जनजातीय सम्मेलन में शामिल होने भोपाल आ रहे हैं। बीजेपी इसे जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मना रही है। भोपाल के जंबूरी मैदान में मध्यप्रदेश से तकरीबन 2 लाख आदिवासियों को लाने की तैयारी है।

जंबूरी मैदान में होने वाले इस आयोजन में मंच पर प्रधानमंत्री 1 घंटा 15 मिनट तक रहेंगे। देश में 5 राज्यों में आगामी विधानसभा चुनाव हैं, ऐसे में आदिवासियों को भोपाल से इस कार्यक्रम के जरिए एक संदेश देने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है। बात की जाए तो मध्यप्रदेश में डेढ़ करोड़ से ज्यादा आदिवासी आबादी है।

 मध्यप्रदेश में 230 विधानसभा सीटों में से 47 सीटें आदिवासी वर्ग की ही हैं। इनमें से 2013 विधानसभा चुनाव में बीजेपी के पास 31 और कांग्रेस के पास 15 सीटें  थीं। लेकिन इससे उलट 2018 विधानसभा चुनाव में बीजेपी आधी सीटें महज 16 और कांग्रेस दोगुनी 30 सीटें जीत कर अपने कब्जे में ले चुकी थी। अभी 230 विधानसभा में बीजेपी के पास 127 सीटों में से 17 आदिवासी सीटें हैं तो कांग्रेस के पास 96 में से 29 आदिवासी सीटें हैं।

पीएम मोदी 1 घंटा 15 मिनट जनजातीय गौरव दिवस कार्यक्रम में  मौजूद रहेंगे। तो वर्ल्ड क्लास रानी कमलापति रेलवे स्टेशन के लोकार्पण कार्यक्रम में 30 मिनट शामिल होंगे। प्रधानमंत्री 15 नवंबर को दोपहर 12:35 पर भोपाल पहुंचेंगे। तो शाम 4:20 पर राजा भोज विमानतल से दिल्ली रवाना होंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को यह महज पौने चार घंटे का कार्यक्रम ही आदिवासी सम्मान की इबारत गढ़ेगा। और कांग्रेस को इसकी काट के लिए जमीन-आसमान का संघर्ष करना पड़ेगा।