Thursday, September 19, 2019

कॉलम / नजरिया

भाजपा के गले का पत्थर?

भाजपा के गले का पत्थर?

मीडियावाला.इन।  पहले देश के लोगों को यही बड़ा धक्का लगा था कि सीबीआई के दो सबसे बड़े अधिकारी एक-दूसरे पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे हैं। भारत की भ्रष्टतम सरकारों के जमाने में भी ऐसे वाकए पहले...

ऐसे अदभुत हैं,शेख नाह्यान

ऐसे अदभुत हैं,शेख नाह्यान

  पिछले चार-पांच दिन दुबई और अबू धाबी में ऐसे बीते, जिनकी याद मुझे जिंदगी भर बनी रहेगी। यों तो दुबई में कई बार आ चुका हूं लेकिन इस बार यहां मैं दिल्ली की ‘दिया फाउंडेशन’ के...

सीबीआई की दुर्गति  

सीबीआई की दुर्गति  

मीडियावाला.इन। आँध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्रियों के द्वारा यह बयान दिया गया है कि उनके राज्यों में CBI के द्वारा अब कोई हस्तक्षेप नहीं किया जा सकता है।ये दोनो मुख्यमंत्री मोदी सरकार के विरुद्ध बनाया...

इमरान भारत से क्यों नहीं मदद मांगे ?

इमरान भारत से क्यों नहीं मदद मांगे ?

मैं पिछले तीन-चार दिन से दुबई-अबूधाबी में हूं। यहां मेरे कई कार्यक्रम हो रहे हैं और कई अरब नेताओं से मिलना हो रहा है लेकिन आज मैं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बारे में आपको बता रहा...

मौत के इंतज़ार में 'बेसहारा' सहकारिता 

मौत के इंतज़ार में 'बेसहारा' सहकारिता 

आजादी के बाद से,आज तक,देश के विकास हेतु अपनाये गए 'मॉडल' से हमें सहमति या असहमति हो सकती है,पर हजारों साल से चले आ रहे,जांचे,परखे और जिए गए रास्ते को बदलने,बिगाड़ने या अपनी सुविधा से बदल देने से...

शिवराज के सामने न नेता , न मुद्दे

शिवराज के सामने न नेता , न मुद्दे

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर खूब कयासबाजी चल रही है, लेकिन कोई यह देखने-समझने को रुक ही नहीं रहा कि प्रदेश की 70 प्रतिशत आबादी को शिवराज सरकार ने सीधे तौर पर प्रभावित कर रखा है। वे...

दिशा दर्शन की पत्रकारिता के प्रमुख स्तंभ थे प्रफुल्ल जी

दिशा दर्शन की पत्रकारिता के प्रमुख स्तंभ थे प्रफुल्ल जी

नवभारत एवं सेंट्रल क्रॉनिकल पत्र समूह के प्रधान संपादक, समाचार एजेंसी यूनीवार्ता के चेयरमेन, देश के वरिष्ठ पत्रकार और पूर्व सांसद श्री प्रफुल्ल माहेश्वरी जी का अवसान न केवल सेन्ट्रल इंडिया अपितु देश की पत्रकारिता के लिए इसलिए...

मां-बेटा पार्टी और भाई-भाई पार्टी

मां-बेटा पार्टी और भाई-भाई पार्टी

प्रादेशिक चुनावों के इस दौर में नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर क्या जबर्दस्त हमला किया है ! मोदी ने पूछा है कि यदि नेहरुजी की कृपा से एक चायवाला भारत का प्रधानमंत्री बन सकता है तो यह बताइए...

ये वोट मांगना नहीं आसान,,,डांट खाकर जाना है 

ये वोट मांगना नहीं आसान,,,डांट खाकर जाना है 

हमारे आस पास राजनीति उफान पर है इन दिनों। हर कोई राजनीति में डूब उतरा रहा है। क्या उम्मीदवार क्या उसका वोटर और क्या हम रिपोर्टर। हर कोई यही कह रहा है ये चुनाव नहीं आसान एक छूत...

हम धरती पर चांद ला देंगे, मध्यप्रदेश को स्वर्ग बना देंगे ....

हम धरती पर चांद ला देंगे, मध्यप्रदेश को स्वर्ग बना देंगे ....

त्रेतायुग में रामराज्य था और कलियुग में मध्यप्रदेश की धरती पर शिव का राज्य पिछले पंद्रह साल से जारी है। अब चौथी पारी की तैयारी है। पहले तीन पारियों में 2003 में छोड़े गए बदहाल मध्यप्रदेश की डेंटिंग,...

कश्मीरः अफरीदी ने क्या गलत कहा ?

कश्मीरः अफरीदी ने क्या गलत कहा ?

पाकिस्तान के प्रसिद्ध क्रिकेट खिलाड़ी शाहिद अफरीदी ने ऐसा क्या कह दिया कि पाकिस्तान में हंगामा मच गया है ! उन्होंने यही तो कहा है कि पाकिस्तान से अपने चार प्रांत तो संभल नहीं रहे हैं। अब वह...

‘यमराज’ से न्याय पाने के लिए भटकते यूपी के ये ‘सत्यवान’…!

‘यमराज’ से न्याय पाने के लिए भटकते यूपी के ये ‘सत्यवान’…!

ये कथा यूपी के उन ‘सत्यवानों’ की है, जो अपनी सधवा पत्नियों के बैंक खातों में विधवा पेंशन जमा होने से परेशान हैं और सरकारी तंत्र रूपी ‘यमराज’ के सामने अपने जिंदा होने का प्रमाण पत्र लेकर...

श्रीलंका में सिंहल-सिंहल संग्राम

श्रीलंका में सिंहल-सिंहल संग्राम

मीडियावाला.इन। श्रीलंका में राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, संसद और यहां तक कि उसके संविधान की जैसी दुर्गति आजकल हो रही है, पहले कभी नहीं हुई। मुझे वह 40 साल पुराना जमाना याद है जब श्रीमती श्रीमावो बंदारनायक और विरोधी नेता...

भाजपा की बगावतः आम कार्यकर्ता माने, खास बने खटाई का सबब

भाजपा की बगावतः आम कार्यकर्ता माने, खास बने खटाई का सबब

मीडियावाला.इन। भाजपा के नाराज जबलपुर उत्तर के निर्दलीय उम्मीदवार धीरज पटैरिया की बगावत समझ में आती है। भाजपा की युवा इकाई के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके धीरज पार्टी के घनघोर समर्पित कार्यकर्ता रहे हैं। वे दो चुनाव...

कोई मंदिर ‘सेक्युलर’ कैसे हो सकता है? 

कोई मंदिर ‘सेक्युलर’ कैसे हो सकता है? 

केरल के सबरीमाला मंदिर में सभी उम्र की महिलाअों के प्रवेश को लेकर जारी ‘धर्म युद्ध’ और धार्मिक दबंगई के बीच सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में दायर सभी पुनर्विचार याचिकाअों पर अगले साल 22 जनवरी से...

ट्रंप और मेक्रों की नोक-झोंक

ट्रंप और मेक्रों की नोक-झोंक

मीडियावाला.इन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मेक्रों के बीच आजकल जैसी नोक-झोंक चल रही है, वैसी चार्ल्स दिगाल के जमाने में भी नहीं चली थी। सारी दुनिया के गोरे देशों में यह माना जाता है...

इस मीडियावी दुनिया में हमारे बच्चों के लिए क्या!

इस मीडियावी दुनिया में हमारे बच्चों के लिए क्या!

अभी कुछ दिन पहले एक कवि सम्मेलन में जाना हुआ। कभी कविताई भी कर लेता था सो पुराना कवि मानते हुए आयोजकों ने अध्यक्ष बना दिया। संगोष्ठी और कवि सम्मेलन की अध्यक्षता करना बड़ा दुश्कर काम है। सबकी...

आगे निकल,पल्टी..मार, पाला बदल

आगे निकल,पल्टी..मार, पाला बदल

  इनदिनों अपने सूबे में राजनीति और मौसम का मिजाज एक सा है। दोनों कब धोखा देदें किसको पता..! घर से निकले टी शर्ट पहनकर लौटे तो निमोनिया हो गया। गए थे भाजपा की टिकट...

रेफलः थोड़ी सफाई और ....

रेफलः थोड़ी सफाई और ....

रेफल विमानों की खरीद के बारे में सरकार ने अब सही राह पकड़ी है। अभी तक वह इस बात पर अड़ी हुई थी कि वह यह नहीं बताएगी कि 500 करोड़ रु. का विमान उसने 1600 करोड़ रु....

रावत में शेषन का अक्स और भयाक्रांत ब्यूरोक्रेसी

रावत में शेषन का अक्स और भयाक्रांत ब्यूरोक्रेसी

मुख्य चुनाव आयुक्त ओमप्रकाश रावत 1990-96 के दौर के टी. एन. शेषन तो नहीं ही हैं, लेकिन वो उसी कुर्सी पर आसीन हैं जिस पर बैठ कर कभी शेषन ने चुनाव आयोग का ऐसा चाबुक चलाया था कि...