Monday, September 23, 2019
अन्य विभागों से बने आईएएस कब चखेंगे कलेक्टरी का स्वाद?

अन्य विभागों से बने आईएएस कब चखेंगे कलेक्टरी का स्वाद?

मीडियावाला.इन।

सीधी भर्ती और राज्य प्रशासनिक सेवा से पदोन्नत होकर आईएएस बनने वालों की कड़ी में अन्य विभागों से 2 वर्ष पूर्व बने चार अधिकारी श्रीकांत पांडे (2007), संजय गुप्ता (2007), शमीम उद्दीन (2008) और मंजू शर्मा (2008) आईएएस से तो नवाज़ दिये गये,  लेकिन उन्हें अभी तक उन्हें कलेक्टरी का स्वाद चखने को नहीं मिला। जबकि उनके बाद के बेच के सीधी भर्ती और एसएएस से पदोन्नत कई आईएएस कलेक्टर बनाये जा चुके है। 

देखते है, कि शिवराज का इन अधिकारियों के साथ सौतेला रवैया कब खत्म होगा ?

अगर हम पूर्व के वर्षों  पर नजर डाले तो इसी तरह अन्य विभागों से बने आईएएस सर्वश्री एस.के. मिश्रा, राकेश श्रीवास्तव, अरूण भट्ट और एस.एस. उप्पल ने न केवल कई जिलों की कलेक्टरी की वरन हमेशा सत्ता के निकट  रहे। इसका कारण यह था कि ये सभी उद्योग विभाग से आए थे और इन्हें अलग तरह का अनुभव था। 

0 comments      

Add Comment