कंगना रनौत ने शेयर किया हेमा मालिनी का 20 साल पुराना वीडियो, बोलीं- जो लोग मजाक….

503

कंगना रनौत ने शेयर किया हेमा मालिनी का 20 साल पुराना वीडियो, बोलीं- जो लोग मजाक…..

बॉलीवुड अभिनेत्री और बीजेपी नेता कंगना रनौत ने अभी राजनीति में कदम रखा है। कंगना रनौत ने हाल ही में 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए हिमाचल प्रदेश में अपने गृहनगर मंडी से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार के रूप में अपनी राजनीतिक यात्रा शुरू की है।कंगना ने अपनी साथी कलाकार और बीजेपी नेता हेमा मालिनी की तारीफ की है। कंगना ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट इंस्टाग्राम पर अभिनेत्री हेमा मालिनी को लेकर एक स्टोरी साझा की है.

Officially File Divorce: 18 साल बाद धनुष से अलग होंगी ऐश्वर्या, चेन्नई कोर्ट में दायर की तलाक की अर्जी 

कंगना ने नृत्य को लेकर कही यह बात

कंगना ने हेमा के 20 साल पुराने एक थ्रोबैक वीडियो को साझ किया है, जिसमें वह मंच पर प्रस्तुति देती नजर आ रही हैं। कंगना रनौत ने हेमा मालिनी की तारीफ करते हुए लिखा, ”आज भी हेमा जी स्टेज पर तीन से चार घंटों तक परफॉर्म करती हैं। जो लोग नृत्य, संगीत और कला का मजाक बनाते हैं, वो नीची और छोटी सोच रखते हैं।” इसके आगे कंगना ने लिखा, ”देवलोक में अर्जुन ने भी नृत्य, संगीत और कला में शिक्षा ली थी। तभी तो वो नटराज कहलाते हैं।”

प्रियंका चोपडा ने फैमिली और फ्रेंड्स के साथ जमकर खेली होली, रंगों में शेयर की फोटोज 

कंगना ने की हेमा की तारीफ
हेमा मालिनी का असली वीडियो ‘ओल्ड इज गोल्ड’ के नाम से इंस्टाग्राम पर शेयर किया गया था। कंगना ने आगे लिखा, ”मैंने 20 साल पुराना हेमा मालिनी का खूबसूरत वीडियो देखा, जिसमें वह भरतनाट्यम करती नजर आ रही हैं। यह वीडियो साल 1986 का है। हेमा बेहद ही सुंदर ढंग, लगन और श्रद्धा के साथ भरतनाट्यम करती नजर आ रही है।” इस पर एक यूजर ने कंगना के इस पोस्ट पर जवाब देते हुए लिखा, ”यह 1968 का नहीं है, क्योंकि उस समय तो हेमा फिल्मों में काम कर रही थी, बल्कि यह वीडियो 1960, 1964 या फिर 1965 का है।”

Heeraamandi: “द डायमंड बाज़ार” का दूसरा गाना ”तिलस्मी बाहें” कल होगा रिलीज़, सोनाक्षी सिन्हा ने किया शेयर 

कंगना ने महिलाओं को लेकर कही थी यह बात
इस पोस्ट से कुछ समय पहले कंगना ने ऐसे लोगों पर अपना गुस्सा निकाला था जो लोग महिलाओं की इज्जत नहीं करते हैं। कंगना ने कहा था, ”अगर वह किसी जवान महिला को देखते हैं, तो वह उसके शरीर पर टिप्पणी करते है और अगर किसी 75 साल की बुजुर्ग महिला को देखते हैं, जो भरतनाट्यम नृत्यांगना है। उनको ‘नचनिया’ या नर्तकी कहकर पुकारते हैं। इस तरह की गालियां दी जाती हैं। यहां तक कि वे किसी बुजुर्ग महिला को भी नहीं बख्शते। वे महिलाओं को किस तरह का जीवन जीना देना चाहते हैं? क्या यह बेहतर होगा कि वे अपनी कब्र खोदें और उसमें खुद को दफना दें।”

गणगौर महापर्व: भोळई निमाड़ में खेती-किसानी करते देवी-देवता