Angry Minister: किसान पर मंत्री गुस्से में बरसे ‘चल हट, तू क्या राष्ट्रपति है! 

78
Angry Minister

Angry Minister

 भिंड। चंबल इलाके के भिंड और मुरैना जिला देश में सबसे ज्यादा सरसों उपजाने क्षेत्रों में गिना जाता है। लेकिन, इस बार रबी फसल बोनी का समय होने के बावजूद किसानों को खाद नहीं मिल रहा।

इस कारण भिंड जिले के किसान खेत तैयार करके फालतू बैठा है। लेकिन, उसे खाद के बजाए उलाहना और लाठियां जरूर मिल रही है। ऐसे में सरकार का कोई मंत्री सार्वजनिक रूप से किसी किसान पर उलट पड़े और उसकी बेइज्जती कर दे, तो बात गलत ही कही जाएगी।

मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार के मंत्री ओपीएस भदौरिया (OPS Bhadoria) का किसानों को लेकर अजीब सा बयान सामने आया।

एक किसान ने अपनी खाद की समस्या बताई और व्यवस्था करने की बात कही, तो मंत्री ने न सिर्फ उसे भला-बुरा कहा, बल्कि हड़काते हुए यहां तक कहा कि ‘तू क्या राष्ट्रपति है, तमीज नहीं है!’ मंत्री के ऐसे बिगड़े बोल पर कांग्रेस को भी किसानों के बहाने BJP को घेरने का मौका मिल गया।

Angry Minister

खुद को किसान और किसानों की सरकार बताने वाली शिवराज सरकार में खाद की किल्लत और किसानों का विरोध चर्चा में है। किसानों का आक्रोश भी खुलकर सामने आया है। सरकार खाद की कमी न होने का दावा कर रही है, वहीं भिंड जिले में खाद (DAP) की कमी के चलते खाद की लूट होने की ख़बरें हैं।

ऐसे माहौल में राज्यमंत्री ओपीएस भदौरिया का ये VDO सामने आने से सरकार प्रति नाराजी बढ़ी है। इस VDO में भदौरिया खाद की मांग करने बाले एक किसान पर भड़कते दिखाई दे रहे हैं और उस पर झिडकते हुए कह रहे हैं कि ‘तमीज़ नहीं है, तुम राष्ट्रपति हो क्या!’

 

DAP ने मिलने से नाराज किसानों ने चक्का जाम और खाद लूटने जैसी घटनाएं भी सामने आ रही है। किसानों पर मामले भी दर्ज हुए हैं। जबकि, सरकार खाद की आपूर्ति सुनिश्चित नहीं कर पा रही है, उल्टे दावे कर रही है कि DAP की कोई कमी नहीं है। इस कारण रबी का मौसम होते हुए किसान बोनी करने में पिछड़ रहे हैं। खाद समस्या को लेकर किसानों ने जब आवास एवं विकास राज्यमंत्री ओपीएस भदौरिया से खाद की मांग की, तो वे तुनक गए किसान को बुरी तरह झिड़क दिया।

भदौरिया अपने मेहगांव विधानसभा क्षेत्र के अमायन इलाके के सड़ा गांव के पास आजी माता मंदिर पर चल रही भागवत कथा में शामिल होने मंगलवार शाम पहुंचे थे। यहीं एक किसान ने उनसे खाद दिलाने की बात कही, तो मंत्रीजी तो गुस्सा हो गए। कार्यक्रम में शामिल होने के बाद जब वे रवाना हो रहे थे, उस दौरान उनके पास कई किसान पहुंचे और खाद की समस्या को लेकर गुहार लगाई।

Also Read: मदिरा भोग: उज्जैन कलेक्टर ने देवियों को मदिरा का भोग अर्पित किया 

मंत्री उस वक़्त कलेक्टर से फ़ोन पर बात कर रहे थे। इसी दौरान भीड़ में से एक किसान ने उनसे खाद न मिलने की शिकायत की थी। माना जा रहा है की मेहगांव में खाद वितरण में जातिवाद हावी है। मंत्री के ख़ास लोगों को बिना परेशानी खाद मिल रही है। यही बात एक किसान के पूछने पर मंत्रीजी झल्ला उठे। कांग्रेस ने निशाना साधा

 

घटना का वीडियो सामने आने के बाद कांग्रेस ने भी निशाना साध लिया। कांग्रेस प्रवक्ता केके मिश्रा ने ट्वीट किया कि ‘ये हैं मप्र के मंत्री OPS भदौरिया, इनके निर्वाचन क्षेत्र मेहगांव के एक अन्नदाता ने सिर्फ खाद न मिलने की शिकायत भर क्या की, मंत्रीजी ने अकाल्पनिक पुष्प वर्षा कर दी! मंत्री जी जनता भगवान है, ऐसा हिसाब करेगी …. मेहगांव में ही खाद की मांग कर रहे 200 किसानों पर FIR भी हुई!

ज़िला कांग्रेस प्रवक्ता डॉ अनिल भारद्वाज का कहना है कि खुद को किसानों की सरकार बताने वाली शिवराज सरकार में किसान खाद के लिए परेशान हैं। इस शासन में किसानों को हक़ की जगह लाठी-डंडे और एफ़आईआर मिल रही है। किसान से बदतमीज़ी से बात करने वाले मंत्री आम आदमी को ‘तमीज़’ सिखा रहे हैं और भाजपा से क्या उम्मीद की जा सकती है।