BJP: नाराज नेताओं को मनाने का जिम्मा नरेंद्र सिंह तोमर और प्रहलाद पटेल को, देर रात CM निवास पर हुई वरिष्ठ नेताओं की बैठक, मंत्रिमंडल विस्तार की भी अटकलें

1355

BJP: नाराज नेताओं को मनाने का जिम्मा नरेंद्र सिंह तोमर और प्रहलाद पटेल को, देर रात CM निवास पर हुई वरिष्ठ नेताओं की बैठक, मंत्रिमंडल विस्तार की भी अटकलें

भोपाल: मध्य प्रदेश भाजपा में प्रतिदिन हो रहा विवादों, बयान बाजी और नेताओं में नाराजगी को देखते हुए कल रात वरिष्ठ नेताओं की बैठक में दो बातें सामने आई है एक तो नाराज नेताओं को मनाने का काम केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को सौंपा गया है और दूसरा मंत्रिमंडल विस्तार के माध्यम से कुछ नेताओं की नाराजगी कैसे दूर की जा सकती है?

दरअसल सागर में मंत्रियों के बीच हुए घटनाक्रम और विवाद में विधायकों की नाराजगी के बाद कल रात आनन-फानन में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर,प्रहलाद पटेल और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय विशेष विमान से दिल्ली से भोपाल आए। ये तीनों नेता पहले राजभवन गए वहां उन्होंने राज्यपाल से कोई आधे घंटे तक चर्चा की। बाद में यह तीनों नेता मुख्यमंत्री निवास पर पहुंचे जहां प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वी डी शर्मा और हितानंद शर्मा पहले से मौजूद थे।

माना जा रहा है कि यह इन सारे वरिष्ठ नेताओं के बीच पार्टी में चल रही नाराजगी और नेताओं को मनाने की कवायद के तरीके पर चर्चा हुई। किस तरह डैमेज कंट्रोल किया जाए ताकि आने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी को कोई नुकसान ना हो। विधायकों और पार्टी को कुछ नेताओं की नाराजगी को देखते हुए मंत्रिमंडल विस्तार पर भी चर्चा हुई है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बैठक में यह भी चर्चा हुई कि परफॉर्मेंस के आधार पर कुछ मंत्रियों को हटाया जाए और कुछ के विभाग बदले जाएं। जातीय और क्षेत्रीय समीकरण साधने मंत्रियों की संख्या में इजाफा भी किया जाए और मंत्रिपरिषद में पूरी क्षमता के साथ मंत्री हो। अभी मंत्री परिषद में 30 मंत्री हैं और और 4 और विधायकों को मंत्री बनाया जा सकता है।

लोकसभा, विधानसभा, जिला और मंडल स्तर पर बीजेपी बनाएगी सोशल मीडिया टीम 

इस प्रकार मंत्रिमंडल फेरबदल और विस्तार में 4 नए मंत्रियों को शामिल करने के साथ ही कुछ मंत्रियों को हटाने और कुछ के विभाग बदलने पर भी चर्चा हुई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नरेंद्र सिंह तोमर और कैलाश विजयवर्गीय तो रात में ही विशेष विमान से वापस दिल्ली चले गए और प्रहलाद पटेल अपने गृहनगर गए।

नरेंद्र सिंह तोमर ने हालांकि कहा कि वह अपनी बेटी की शादी का कार्ड देने राजभवन गए थे और उनकी राज्यपाल से सामान्य विषयों पर चर्चा हुई है।

भोपाल में मुख्यमंत्री निवास पर कल रात हुई बैठक को लेकर कहा जा रहा है कि यह बैठक डैमेज कंट्रोल को लेकर चर्चा करने के लिए हुई है। बैठक में पिछले दिनों से कुछ नेताओं के बयान और पार्टी से नाराजगी को लेकर भी चर्चा की गई। ज्योतिरादित्य सिंधिया और सांसद केपी सिंह के बीच चल रहे मनमुटाव के बारे में भी चर्चा हुई है। सागर जिले के नेताओं की नाराजगी के मुद्दे के अलावा विंध्य क्षेत्र के विधायकों की नाराजगी को भी गंभीरता से लिया गया है।

KP Yadav Attack : सिंधिया का नाम लिए बिना गुना सांसद ने सिंधिया को घेरा!