पंजाब में चन्नी और सिद्धू की अग्नि परीक्षा शुरू

453

विधानसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही पंजाब में कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू की अग्नि परीक्षा भी शुरू हो गई है। जानकारों का कहना है कि सिद्धू ने पिछले एक साल में कांग्रेस की राह में कई कांटे बिछा दिए हैं। इन्हें हटा कर पार्टी को जीत की राह पर ले जाना वास्तव में एक बड़ी चुनौती है।

दिल्ली तक पहुंच रही खबरों से पता चला है कि पंजाब कांग्रेस में भगदड़ की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। टिकट न मिलने से नाराज नेता अमरिंदर सिंह अथवा भाजपा के पाले में जा सकते हैं। सिद्धू और मुख्यमंत्री के बीच आपसी समन्वय का ना होना भी हाईकमान की चिंता का एक कारण बताया जा रहा है।

एक बात लगभग तय है कि पंजाब में इस बार कयी दलों और गठबंधनों के बीच मुकाबला होगा। ऐसे में किसी एक दल अथवा गठबंधन को बहुमत मिलना मुश्किल दिख रहा है।